इसरो ने इसराइल से सीखा सबक, इस वजह से टाला चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण

पुनः संशोधित शुक्रवार, 26 अप्रैल 2019 (07:56 IST)
नई दिल्ली। चांद पर उतरने के इजराइल के प्रयास की विफलता के बाद इसरो ने मिशन को जुलाई तक के लिए टाल दिया गया है। कहा जा रहा है कि इसराइली प्रक्षेपण यान के दुर्घटनाग्रस्त होने की घटना को देखते हुए इसरो ने यह कदम उठाया है। इसी बीच ऐसी खबरें भी आई हैं कि चंद्र मिशन से जुड़े यान को आंशिक क्षति पहुंची है।
इसरो के एक अधिकारी ने कहा कि हमने इजराइल का उदाहरण देखा और हम कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहते हैं। तकनीकी रूप से काफी उन्नत देश होने के बावजूद इजराइल का मिशन असफल रहा। हम अपना मिशन सफल होते हुए देखना चाहते हैं।

भारत के चंद्र मिशन का प्रक्षेपण अप्रैल में ही होना था लेकिन इस महीने की शुरुआत में के 'बेरेशीत प्रक्षेपण यान' के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद इसे टाल दिया गया। यह निजी प्रयास वाला पहला महत्वाकांक्षी मिशन था।
अधिकारी ने बताया, 'चांद पर उतरना बहुत ही जटिल मिशन है।' उन्होंने कहा कि अब प्रक्षेपण के लिए उपलब्ध अगली तिथियां मध्य जुलाई में 10 दिन के लिए हैं।

 

और भी पढ़ें :