दिल्ली की हवा में जहर, 4 नवंबर तक बंद रहेंगे सभी SDMC स्कूल

Last Updated: शुक्रवार, 1 नवंबर 2019 (16:48 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के मद्देनजर राजधानी के एनसीआर क्षेत्र में हैल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी गई है। साथ ही निर्माण कार्यों पर भी रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही दिल्ली में सोमवार तक दक्षिण दिल्ली के स्कूलों की छुट्‍टी घोषित कर दी गई है।

हैल्थ इमरजेंसी का फैसला दिल्ली एनसीआर में जानलेवा प्रदूषण को ध्यान में रखकर लिया गया है। इसके साथ ही पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण ने हवा की गुणवत्ता गंभीर स्तर पर पहुंचने के कारण यह फैसला लिया है।
प्राधिकरण ने समूचे एनसीआर क्षेत्र में 5 नवंबर की सुबह तक निर्माण कार्यों पर पूरी तरह रोक लगा दी है। साथ ही सर्दी के पूरे मौसम में पटाखे छोड़ने पर पाबंदी लगा दी है।
सर गंगाराम अस्पताल में फेफड़ों के शल्य चिकित्सक डॉ अरविंद कुमार ने कहा, 'प्रदूषित वायु का 22 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर हिस्सा श्वांस के साथ शरीर में जाने पर यह एक सिगरेट पीने के बराबर होता है। ऐसे में पीएम 2.5 का स्तर 700 हो या 300 हो, इसका प्रभाव बहुत बुरा होता है। लोगों को एहतियात बरतनी चाहिए खासकर उन लोगों को जो अस्थमा, ब्रोंकाइटिस या श्वास संबंधी अन्य रोगों से पीड़ित हैं।'
उल्लेखनीय है कि दिल्ली में दिवाली के बाद हवा ज्यादा जहरीली हो चुकी है। शुक्रवार को दिल्ली -NCR में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया। शुक्रवार सुबह दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 425 दर्ज हुआ है जिसके चलते लोगों को आंखों में जलन और सांस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ा।



और भी पढ़ें :