मौसम अपडेट : यूपी-बिहार में बाढ़ का तांडव, हिमाचल व छत्तीसगढ़ में वर्षा की संभावना

Last Updated: शुक्रवार, 13 अगस्त 2021 (08:54 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। देश के कई भागों में वर्षा का दौर जारी है। कहीं बाढ़ का प्रकोप है तो कहीं वर्षा की कमी। यूपी व अत्यधिक वर्षा से बाढ़ के प्रकोप से जूझ रहे हैं। बदायूं, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी, गाजीपुर और बलिया में गंगा खतरे के निशान के ऊपर बह रही है जबकि औरैया, जालौन, हमीरपुर, बांदा और प्रयागराज में यमुना नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है।
ALSO READ:

मौसम अपडेट : में बाढ़ से त्राहिमाम, 1243 गांवों में 5 लाख से अधिक लोग प्रभावित, के लिए तरसे दिल्ली, पंजाब, हरियाणा

यूपी में बाढ़ का प्रकोप : मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मानसून ब्रेक फेज में चला गया है और उत्तर-पश्चिम भारत में कम से कम 16 अगस्त तक बारिश नहीं होगी। उत्तरप्रदेश के 11 जिले - प्रयागराज, चित्रकूट, कौशांबी, प्रतापगढ़, बस्ती, गोंडा, सुल्तानपुर, श्रावस्ती, लखनऊ, रायबरेली और फतेहपुर में पिछले 24 घंटे में 25 मिमी या अधिक बारिश हुई। राहत आयुक्त के कार्यालय से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक 23 जिलों के 1243 गांवों में 5,46,049 लोगों की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई हैं। सिंचाई विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक बदायूं, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी, गाजीपुर और बलिया में गंगा खतरे के निशान के ऊपर बह रही है जबकि औरैया, जालौन, हमीरपुर, बांदा और प्रयागराज में यमुना नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। उत्तराखंड में बुधवार को मूसलाधार बारिश के बीच अल्मोड़ा जिले में एक घर के बह जाने से एक महिला की मौत हो गई और पांच लोग घायल हो गए, वहीं देहरादून में एक व्यक्ति नदी में बह गया।

बिहार भी बेहाल :
बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को सड़क मार्ग से पटना के आसपास के गंगा के कई इलाकों तथा विभिन्न घाटों का जायजा लेने के साथ इस नदी के किनारे अवस्थित अन्य बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। कुमार ने बुधवार को सड़क मार्ग से पटना के आसपास के गंगा के कई इलाकों तथा विभिन्न घाटों का जायजा लिया।इस दौरान उन्होंने गंगा के दक्षिणी छोर के दीघा घाट, भद्रघाट, कंगन घाट एवं गांधी घाट का जायजा लिया।उन्होंने जेपी सेतु होते हुए सोनपुर एवं हाजीपुर के क्षेत्रों का भी जायजा लिया।
मुख्यमंत्री ने सड़क मार्ग से निरीक्षण करने के उपरांत गंगा नदी के बढ़ते जल स्तर के कारण दीघा से मोकामा तक, राघोपुर, बख्तियारपुर, पंडारक, बाढ़ से सटे दियारा इलाकों, मोकामा के टाल इलाकों, समस्तीपुर के मोहद्दीनगर, बेगूसराय के बछवाड़ा एवं अन्य बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया।

मानसून की ट्रफ रेखा अमृतसर, देहरादून, बरेली, गोरखपुर, पटना से होते हुए पूर्व की ओर अरुणाचल प्रदेश की ओर जा रही है। बिहार और उससे सटे उत्तरप्रदेश पर बना चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र औसत समुद्र तल से 4.5 तक बना हुआ है। एक उत्तर दक्षिण ट्रफ रेखा बिहार के ऊपर बने चक्रवाती परिसंचरण से लेकर झारखंड और आंतरिक उड़ीसा होते हुए आंध्रप्रदेश के दक्षिणी तट तक फैली हुई है। दक्षिण-पश्चिम राजस्थान पर 3.1 से 4.5 किलोमीटर के बीच एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। चक्रवाती परिसंचरण दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और तटीय तमिलनाडु के आसपास के हिस्सों में 5.4 से 7.6 किलोमीटर के बीच देखा जा सकता है।
स्काईमेट के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, बिहार के कुछ भागों, पूर्वी उत्तरप्रदेश, ओडिशा के कुछ हिस्सों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, गोवा, केरल और तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश के 1-2 हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। शेष पूर्वोत्तर भारत, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड के कुछ हिस्सों, छत्तीसगढ़, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, तटीय कर्नाटक, आंतरिक तमिलनाडु, तटीय आंध्रप्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश हुई। जम्मू-कश्मीर, गुजरात के कुछ हिस्सों, आंतरिक कर्नाटक, पूर्वी मध्यप्रदेश और विदर्भ के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई।
अगले 24 घंटों के दौरान, बिहार, असम और मेघालय में मध्यम से भारी बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है। अरुणाचल प्रदेश, नगालैंड, सिक्किम, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, पूर्वी उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों, बिहार, झारखंड और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, तेलंगाना, रायलसीमा, तमिलनाडु, तटीय कर्नाटक, केरल और कोंकण और गोवा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर कुछ देर के लिए तेज बारिश हो सकती है। उत्तरप्रदेश के मध्य भागों में, पूर्वी मध्यप्रदेश, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों में विदर्भ और लक्षद्वीप के एक या दो भागों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। गुजरात, मध्य महाराष्ट्र और उत्तर आंतरिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश संभव है।



और भी पढ़ें :