पंढरपुर यात्रा में शामिल नहीं हुए मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस, घर में ही किया भगवान विट्ठल का अभिषेक

Last Updated: सोमवार, 23 जुलाई 2018 (11:41 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री इस बार पवित्र पंढरपुर यात्रा में शामिल नहीं हुए। आषाढ़ी एकादशी पर राज्य का मुख्यमंत्री पंढरपुर के विट्ठल मंदिर का प्रथम पूजन करता है। मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने यह परंपरा तोड़ दी। मुख्यमंत्री ने अपनी पत्नी के साथ घर पर ही का अभिषेक किया।

परंपरा के मुताबिक पंढरपुर यात्रा की समाप्ति पर हर वर्ष महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री इसमें शिरकत करते हैं। खबरों के अनुसार कुछ मराठा संगठन मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस का विरोध करने वाले थे। इसे लेकर उन्होंने धमकी भी दी थी। इसी के चलते मुख्यमंत्री पंढरपुर नहीं पहुंचे।

मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने के फोटो के साथ ट्वीट भी किया। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ऐलान किया था कि वह इस साल वारी (एक धार्मिक यात्रा) में हिस्सा नहीं लेंगे। उन्होंने कहा ‍था कि 'महाराष्ट्र में वारी की परंपरा 700 साल पुरानी है। मैं भी पिछले तीन सालों से वहां जा रहा हूं।

कुछ संगठनों ने इसका विरोध किया है, जो गलत है। अगर मैं 10 लाख लोगों की सुरक्षा के लिए खतरा हूं तो मैं वहां नहीं जाऊंगा। लाखों श्रद्धालु कई दिनों की पैदल यात्रा करके महाराष्ट्र के ईष्टदेव दर्शन करने पंढरपुर पहुंचे।



और भी पढ़ें :