लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से मांगी रिपोर्ट, NSG व NIA की टीमें रवाना

Last Updated: गुरुवार, 23 दिसंबर 2021 (18:27 IST)
हमें फॉलो करें
पंजाब के लुधियाना में गुरुवार को जिला अदालत परिसर में हुए विस्फोट में 2 की मौत हो गई और 4 लोग घायल हुए हैं। पुलिस के मुताबिक अदालत परिसर की दूसरी मंजिल पर बने शौचालय में विस्फोट हुआ. उस समय जिला अदालत की कार्यवाही चल रही थी।
ALSO READ:

चाय वाले ने पहली बार खरीदा मोबाइल, गाजे-बाजे के साथ लाया अपने घर, वीडियो वायरल
विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि परिसर की एक दीवार क्षतिग्रस्त हो गई और परिसर में खड़े कुछ वाहनों को भी नुकसान पहुंचा है। इस बीच ने से रिपोर्ट मांगी है। एनएसजी और एनआईए की टीमें भी लुधियाना के लिए रवाना हो गई हैं।

इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने अस्पताल पहुंचकर ब्लास्ट में घायल लोगों से मुलाकात की। चन्नी ने पत्रकारों से कहा कि हमें लगता है कि आने वाले चुनाव को देखते हुए पंजाब में अराजकता फैलाने की कोशिश की जा रही है। इसके पीछे कौन है, इसके बारे में जांच चल रही है।
बहुत जल्द खुलासा होगा। यह घटना निंदनीय है।
चन्नी ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि बम लगाने वाले की भी मौत हुई है।

सिद्धू ने कहा शक के घेरे में एजेंसियां : पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि लुधियाना कोर्ट में हुए ब्लास्ट से साफ हो गया है कि पंजाब में लगातार माहौल बिगाड़ने की साजिश की जा रही है। पंजाब में लॉ एंड ऑर्डर की प्रॉब्लम खड़ी करने की कोशिश की जा रही है। सिद्धू ने कहा कि कोई भी ताकत पंजाब की एकता को नहीं तोड़ सकती। सिद्धू ने मृतकों के साथ सहानुभूति व्यक्त करते हुए घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। सिद्धू ने एजेंसियों पर भी सवाल उठाए।

माहौल बिगाड़ने की कोशिश : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जिन लोगों की मृत्यु हुई है उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना है। घायल लोगों की ज़ल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। 3-4 दिन पहले दरबार साहिब में बेअदबी का मामला हुआ और आज विस्फोट हुआ कुछ लोग पंजाब का माहौल खराब करना चाहते हैं।



और भी पढ़ें :