गुरुवार, 29 फ़रवरी 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. मध्यप्रदेश
  4. Finance Minister Jagdish Deora presented the interim budget of Mohan government in Madhya Pradesh Assembly,
Last Modified: सोमवार, 12 फ़रवरी 2024 (14:59 IST)

मध्यप्रदेश विधानसभा में वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा ने पेश किया मोहन सरकार का अंतरिम बजट, मंगलवार को होगी चर्चा

मध्यप्रदेश विधानसभा में वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा ने पेश किया मोहन सरकार का अंतरिम बजट, मंगलवार को होगी चर्चा - Finance Minister Jagdish Deora presented the interim budget of Mohan government in Madhya Pradesh Assembly,
भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा में सोमवार को वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने मोहन सरकार अंतिरम बजट पेश कर दिया। वित्तीय वर्ष 2024-25 की पहली तिमारी के लिए सदन में पेश अंतिरम बजट (लेखानुदान) में एक लाख 45 हजार करोड़ का  प्रवाधान है। अंतरिम बजट सदन में पेश होने के बाद विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को 4 घंटे चर्चा का समय तय किया। 

लेखानुदान वर्ष 2024-25- विधानसभा में उप मुख्यमंत्री और वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा ने वित्तीय वर्ष 2024-25 का लेखानुदान विधानसभा में प्रस्तुत किया। संविधान के अनुच्छेद 206 (1) के अंतर्गत निरंतर व्यय के मदों के लिये नवीन सेवायें अथवा व्यय के नये मद/शीर्ष सम्मिलित नहीं हैं। लेखानुदान का उद्देश्य अंतिम आपूर्ति की स्वीकृति होने तक सरकार के क्रियान्वयन को जारी रखना है। करारोपण संबंधी नये प्रस्ताव तथा व्यय के नवीन मद सम्मिलित नहीं हैं। द्वितीय अनुपूरक अनुमान में सम्मिलित नवीन योजनाओं के लिये प्रावधान है। लेखानुदान की अवधि समाप्त होने के पूर्व अनुदान की पुनरीक्षित मांगें सदन के समक्ष प्रस्तुत की जायेंगी। लेखानुदान द्वारा प्राप्त राशि मुख्य बजट में समाहित की जायेंगी। लेखानुदान 4 माह (एक अप्रैल से 31 जुलाई, 2024) के लिये है। वित्तीय वर्ष हेतु बजट में सम्मिलित राशि 3,48,986.57 करोड़ है। लेखानुदान के लिये राशि रुपये 1,45,229.55 करोड़ है। लेखानुदान राशि में मतदेय राशि रुपये 1,19,453.05 करोड़ तथा भारित राशि रुपये 25,776.51 करोड़ है।

बजट अनुमान 2024-25 का वार्षिक वित्तीय विवरण
वर्ष 2024-25 के बजट अनुमान में कुल राजस्व प्राप्तियाँ राशि रुपये 2,52,268.03 करोड़ है। इसमें राज्य कर से राजस्व प्राप्तियाँ रुपये 96,553.30 करोड़ है। गैर कर राजस्व प्राप्तियाँ रुपये 18,077.33 करोड़ है। बजट अनुमान में राजस्व व्यय रुपये 2,51,825.13 करोड़ है। वर्ष 2023-24 में पुनरीक्षित अनुमान में राजस्व व्यय रुपये 2,31,112.34 करोड़ है। वर्ष 2024-25 में बजट अनुमान में राजस्व आधिक्य रुपये 442.90 करोड़ है। कुल पूँजीगत प्राप्तियाँ का बजट अनुमान रुपये 59,718.64 करोड़ है एवं वर्ष 2024-25 में कुल पूँजीगत परिव्यय का बजट अनुमान 59,342.48 करोड़ है।
 

ये भी पढ़ें
बड़ी खबर: अवध बिहारी चौधरी बिहार विधानसभा अध्यक्ष पद से बेदखल