उपचुनाव का रण: नंगे-भूखे बयान के जवाब में भाजपा का ‘मैं भी शिवराज कैंपेन’

Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 13 अक्टूबर 2020 (18:30 IST)

भोपाल। मध्यप्रदेश के उपचुनाव में सियासी रण में अब भूखे-नंगे के बयान पर सियासत तेज हो गई है। मुरैना से टिकट के दावेदार रहे दिनेश गुर्जर के बयान कि कमलनाथ जी हिंदुस्तान के दूसरे नंबर के उद्योगपति है,शिवराज सिंह चौहान की तरह नंगे-भूखे घर के नहीं है,को भाजपा ने हाथों हाथ लपक लिया है।

प्रदेश भाजपा ने सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाया है। सोशल मीडिया पर मध्यप्रदेश भाजपा की तरफ से लिखा गया कि अगर गरीब परिवार से होना गुनाह है तो @OfficeOfKNath जी लीजिए, आज प्रदेश एक सुर में बोल रहा है ‘मैं हूँ शिवराज’। कांग्रेस ने प्रदेश के हर किसान, मज़दूर, गरीब और उसके परिवार का अपमान किया है। एक गरीब के बेटे का अपमान किया है। आइए एक साथ बोलें #और अपनी DP बदलें।

इसके बाद एक के बाद एक प्रदेश भाजपा के सभी बड़े नेता इस कैंपेन से जुड़ गए। अभियान की शुरुआत करनते हुए मध्यप्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने ट्वीटर हैंडल पर लिखा कि “अगर गरीब परिवार से होना गुनाह है तो आज मैं कहता हूँ #MainBhiShivraj और अगले 24 घंटे के लिए अपने सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीर के साथ अपना नाम बदल रहा हूँ। और मैं प्रदेश के हर कार्यकर्ता और जनता से निवेदन करता हूँ कि संलग्न तस्वीर से अपनी DP बदलें और एक सुर में कहें #MainBhiShivraj

शिवराज ने फिर बोला हमला-वहीं आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फिर इस मुद्दे पर कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस ने मुझे नंगा-भूखा कहा, लेकिन मेरा तो कोई मान-अपमान नहीं है। हम तो जनता के सेवक हैं और अपनी जनता की सेवा में लगे रहते हैं। मुझे कोई आपत्ति नहीं है, स्वागत है। बल्कि मैं तो ये कहूंगा कि हम नंगे- भूखे ही अच्छे हैं, क्योंकि नंगे-भूखे ही सरकार का उपयोग जनता की बेहतरी के लिए करते हैं।




और भी पढ़ें :