भोपाल रेलवे स्टेशन के रेस्ट हाउस में गैंगरेप,रेलवे के दो बड़े अफसर गिरफ्तार

नौकरी दिलाने का झांसा देकर यूपी से बुलाया था भोपाल,दोनों अफसर संस्पेंड

विशेष प्रतिनिधि| Last Updated: रविवार, 27 सितम्बर 2020 (10:51 IST)
भोपाल प्लेटफार्म नंबर-1 पर बने रेस्ट हाउस में 22
साल की युवती के साथ गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक पीड़ित युवती महोबा की रहने वाली है और उसे नौकरी दिलाने का झांसा देकर रेलवे के दो बड़े अफसरों ने भोपाल बुलाकर उसके साथ गैंगरेप किया।
पीड़िता का आरोप है कि भोपाल स्टेशन पहुंचने पर रेल मंडल में सेफ्टी काउंसलर जूनियर इंजीनियर राजेश तिवारी उसे प्लेटफॉर्म पर बने रेस्ट हाउस में ले गए और फिर उसको नशीला पदार्थ पिलाकर अपने एक साथी के साथ मिलकर रेप किया।
पीड़ित युवती का आरोप है कि उसे नौकरी का झांसा देकर आरोपियों ने भोपाल बुलाया था जहां उसे बहला फुसलाकर उसे रेस्ट हाउस में ले गए और उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया। दोनों आरोपी राजेश तिवारी और अशोक मालवीय रेलवे में इंजीनियर है। फिलहाल दोनों अफसरों को सस्पेंड कर DRM ने मामले की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
बताया जा रहा है कि युवती एक आरोपी को पूर्व से ही जानती थी। महिला का आरोप है कि उसे नौकरी का झांसा देकर भोपाल बुलाया गया था और उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया है,वहीं पुलिस इस मामले में आरोपियों से पूछताछ कर रही है और भी बड़ा खुलासा होने की संभावना है।




और भी पढ़ें :