वाराणसी सीट से प्रियंका गांधी ने क्यों नहीं लड़ा चुनाव, बताई यह वजह

पुनः संशोधित सोमवार, 29 अप्रैल 2019 (09:39 IST)
लखनऊ। की वाराणसी लोकसभा सीट से चुनाव नहीं लड़ने को लेकर महासचिव प्रियंका गांधी का पहली बार बयान आया है। प्रियंका गांधी ने कहा कि उनके कंधों पर पूरे उत्तरप्रदेश में कांग्रेस के प्रचार की जिम्मेदारी है।
एक समाचार चैनल से बातचीत करते हुए प्रियंका ने कहा कि उन पर एक नहीं, 41 सीटों पर कांग्रेस को जिताने का जिम्मा है। एक सीट पर रहकर ऐसा संभव नहीं हो पाता।

वाराणसी से कांग्रेस ने अजय राय को अपना उम्मीदवार बनाया है। अजय राय इससे पहले भी 2014 में प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ कांग्रेस के ही टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं। 2014 में भी अजय राय को प्रत्याशी बनाया था, लेकिन वे अपनी जमानत भी नहीं बचा सके थे।
प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाए जाने के बाद इस प्रकार की अटकलें शुरू हो गईं कि गांधी आने वाले वक्त में पूर्वांचल की सबसे प्रतिष्ठित सीट वाराणसी से चुनाव लड़ सकती हैं। प्रियंका के वाराणसी से चुनाव लड़ने की चर्चाओं पर विराम 25 अप्रैल को लगा जब कांग्रेस ने अजय राय को यहां से टिकट दे दिया।

प्रियंका गांधी ने यह भी कहा कि कई सीटों पर पार्टी के प्रत्याशी मुझे अपना चुनाव प्रचार के लिए बुलाना चाहते थे, ऐसे में मैं किसी को भी निराश नहीं करना चाहती थी। योगी आदित्यनाथ के गढ़ कह जाने वाले पूर्वांचल की जिम्मेदारी प्रियंका गांधी पर है।

 

और भी पढ़ें :