कांग्रेस ने शिवराज को सौंपे 21 लाख कर्जमाफी वाले किसानों के नाम, शिवराज का पलटवार कांग्रेस के पैरों के नीचे से खिसक गई जमीन

भोपाल। मध्य प्रदेश में कर्जमाफी पर एक बार फिर सियासत गर्मा गई है। लोकसभा चुनाव में भाजपा के इस आरोप कि सरकार किसानों के कर्जमाफी पर झूठ बोल रही पर आज ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कर्जमाफी के सबूत सौंपे।
कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी के नेतृत्व में पार्टी का एक दल 21 लाख किसानों की सूची लेकर शिवराज सिंह चौहान के घर पहुंचा। इस मौके पर सुरेश पचौरी ने कहा कि कर्जमाफी के तहत कांग्रेस सरकार ने पहले चरण में 21 लाख किसानों का कर्ज माफ कर दिया है और चुनाव के बाद दूसरे चऱण में शेष किसानों का कर्जमाफ कर दिया जाएगा, लेकिन इसके ठीक उलटे शिवराज समेत भाजपा के नेता किसानों को कर्जमाफी को लेकर लगातार गुमराह कर रहे थे इसलिए हमने 21 लाख लाभान्वित किसानों की सूची शिवराज सिंह को सौंपी है।

शिवराज का पलटवार : वहीं कांग्रेस के किसानों की सूची सौंपे जाने पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार कर्जमाफी के नाम पर किसानों को धोखा देकर उनको ठग रही है। शिवराज ने सूची सौंपे जाने पर कहा कि सरकार और कांग्रेस नेता मुझे संतुष्ट करने की जगह किसानों को संतुष्ट करें। सरकार आचार संहिता के नाम पर किसानों की कर्जमाफी से बच रही है।

शिवराज ने सीधे राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दस दिन में किसानों के कर्जमाफी का दावा किया था लेकिन प्रदेश सरकार अब तक पूरी तरह फेल है और राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश के किसानों से धोखा किया है। आज किसानों को बैंकों से कर्ज वसूली के नोटिस लगातार मिल रहे हैं जिससे पूरे प्रदेश में गुस्से में हैं और 23 तारीख को रिजल्ट आएगा तो पता चलेगा कि कांग्रेस के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई।

 

और भी पढ़ें :