क्या अमेठी में लेजर गन के निशाने पर थे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

पुनः संशोधित गुरुवार, 11 अप्रैल 2019 (17:58 IST)
अमे‍ठी। अमेठी में नामांकन का पर्चा भरने के बाद पत्रकारों से बातचीत करने के दौरान राहुल गांधी के सिर पर एक-दो नहीं बल्कि सात बार हरे रंग का लेजर बिंदु दिखाई दिया। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है। मीडिया में यह खबर आई कि सुरक्षा में हुई इस चूक को लेकर ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखा, जबकि कांग्रेस ने ऐसे किसी पत्र से इंकार किया है।
खबरों के मुताबिक अमेठी में रोड शो के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान राहुल गांधी के चेहरे और कनपटी पर लेजर दिखाई पड़ रही थी। सोशल मीडिया में इसका वीडियो भी वायरल हुआ। गृह मंत्रालय ने भी कहा उन्हें ऐसा कोई पत्र नहीं मिला है। गृह मंत्रालय ने भी कहा कि यह मोबाइल कैमरे की लाइट थी।

एसपीजी ने कहा मोबाइल की लाइट थी : इस बारे में एसपीजी के निदेशक का कहना है कि लाइट कांग्रेस के फोटोग्राफर के मोबाइल फोन की थी, जो राहुल गांधी का वीडियो बना रहा था।

कांग्रेस ने नहीं लिखा कोई पत्र :
पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी कांग्रेस ने सार्वजनिक तौर पर सामने आए पत्र के बारे में कहा कि कोई चिट्ठी नहीं लिखी गयी है। गृह मंत्रालय ने व्यापक सूचना दी है। कोई शिकायत नहीं की गई है।

यह पूछे जाने पर क्या यह पत्र फर्जी हैं तो सिंघवी ने कुछ भी स्पष्ट करने से इंकार करते हुए कहा कि 'खुद गृह मंत्रालय ने कहा है कि उन्हें कोई पत्र नहीं मिला है।' इससे पहले सार्वजनिक हुए पत्र पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं अहमद पटेल, रणदीप सुरजेवाला और जयराम रमेश के हस्ताक्षर हैं, हालांकि पार्टी ने इसकी पुष्टि नहीं की है।
सोशल मीडिया में शेयर हो रहे इस कथित पत्र में कहा गया है कि बुधवार को जब गांधी अमेठी मीडिया से बातचीत कर रहे थे, उसी दौरान उनके शरीर पर कम से कम सात बार हरे रंग की दिखाई दी।

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और बहनोई राबर्ट वाड्रा की मौजूदगी में अमेठी के जिला कलेक्ट्रेट में बुधवार को नामांकन-पत्र दाखिल किया।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले मुंशीगंज से गौरीगंज तक 3 किलोमीटर का रोड शो किया। इस दौरान उन्होंने अपनी पार्टी का पूरा चुनाव प्रचार किया।

अमेठी की लोकसभा सीट से राहुल गांधी का मुकाबला भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से है। राहुल अमेठी से पहले केरल के वायनाड से भी नामांकन दाखिल कर चुके हैं। वे तीन बार से अमेठी से लोकसभा सदस्य हैं।

 

और भी पढ़ें :