डेब्यू टेस्ट में शतक लगाने वाले श्रेयस अय्यर बने 16वें भारतीय बल्लेबाज, पढ़िए लिस्ट

Last Updated: शुक्रवार, 26 नवंबर 2021 (14:36 IST)
कानपुर: फटाफट क्रिकेट में अपना सिक्का जमाने के दम पर भारत की टेस्ट कैप पहनने का गौरव हासिल करने वाले मुबंई के युवा बल्लेबाज ने चयनकर्ताओं की कसौटी पर खरा उतरते हुये अपने पदार्पण टेस्ट में शतक जड़ने का गौरव हासिल किया।

ग्रीनपार्क मैदान पर शुक्रवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को श्रेयस ने 157 गेंदे खेलकर यह बेमिसाल उपलब्धि हासिल की। यह करिश्मा करने वाले श्रेयस 16वें भारतीय बल्लेबाज हैं। इससे पहले लाला अमरनाथ, दीपक शोधन, एजी कृपाल सिंह, अब्बास अली बेग, हनुमंत सिंह, गुंडप्पा विश्वनाथ, सुरिंदर अमरनाथ, मोहम्मद अजहरुद्दीन, प्रवीण आमरे, सौरव गांगुली, वीरेंद्र सहवाग, सुरेश रैना, शिखर धवन, रोहित शर्मा और पृथ्वी शॉ ने अपने पदार्पण टेस्ट में शतकवीर होने का गौरव हासिल किया है।

श्रेयस ने 61.40 के स्ट्राइक रेट से अपनी 105 रन की शतकीय पारी में 267 मिनट क्रीज पर बिताये और इस दौरान 171 गेंदो का सामना करते हुये 13 चौके और दो शानदार छक्के जड़े।
उन्हें टिम साउदी ने आउट किया।

सीनियर खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में खेली जा रही सीरीज के पहले मैच में ही श्रेयस अय्यर ने फायदा उठाया।मांस पेशियों में खिंचाव के कारण अंतिम समय पर टीम से बाहर हुये लोकेश राहुल के स्थान पर श्रेयस अय्यर को मौका दिया गया।

गावस्कर ने थमाई थी टेस्ट कैप

कानपुर में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने टेस्ट करियर का पदार्पण मैच खेलने उतरे श्रेयस अय्यर को पूर्व भारतीय कप्तान ने टेस्ट कैप पहना कर उनकी हौसलाफजाई की थी।

ग्रीनपार्क मैदान पर गुरूवार को मैच शुरू होने से पहले गावस्कर ने श्रेयस को टेस्ट कैप प्रदान की जिसे कुछ देर निहारने के बाद श्रेयस ने उसे चूमा और पहन लिया था। गावस्कर ने उन्हे सफलता के लिये शुभकामनाये दी थी। बाद में टीम के सदस्यों ने श्रेयस को उनकी इस उपलब्धि के लिये बधाई दी थी।

अपनी 27वीं सालगिरह से 10 दिन पहले मुबंई के

श्रेयस ने इससे पहले 22 एक दिवसीय मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है और 42.78 के औसत से 810 रन बनाये है जिसमें उनका एक शतक भी शामिल है। जबकि आठ बार उन्होने अपना स्कोर 50 के पार पहुंचाया है। बल्लेबाजी के अलावा भारतीय कप्तान उनका इस्तेमाल लेग ब्रेक स्पिनर के तौर पर भी कर सकते हैं।

कोच राहुल द्रविड़ का भरोसा और महानतम बल्लेबाज सुनील गावस्कर से टेस्ट कैप के रूप में मिले सम्मान को बरकरार रखते हुये मुबंई के युवा बल्लेबाज आज यह करिश्मा कर दिखाया।

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में शतक बनाने वाले तीसरे बल्लेबाज बने

कानपुर में पहला टेस्ट खेलकर शतक बनाने वाले वह विश्वनाथ के बाद दूसरे भारतीय बल्लेबाज हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ पदार्पण टेस्ट में शतक जमाने वाले वह तीसरे भारतीय हैं।

उनसे पहले अर्जन कृपाल सिंह (1955) और सुरिंदर अमरनाथ (1976) ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टेस्ट खेलकर शतक जमाया था।पहले टेस्ट में शतक जमाने वाले भारतीय क्रिकेटरों की सूची इस प्रकार है।

1 . लाला अमरनाथ (बनाम इंग्लैंड 1933)

2 . दीपक शोधन (बनाम पाकिस्तान 1952)

3 . अर्जन कृपाल सिंह (बनाम न्यूजीलैंड 1955)

4 . अब्बास अली बेग (बनाम इंग्लैंड 1959)

5 . हनुमंत सिंह (बनाम इंग्लैंड 1964)

6 . जी विश्वनाथ (बनाम आस्ट्रेलिया 1969)

7 . सुरिंदर अमरनाथ (बनाम न्यूजीलैंड 1976)

8 . मोहम्मद अजहरूद्दीन (बनाम इंग्लैंड 1984)

9 . प्रवीण आमरे (बनाम दक्षिण अफ्रीका 1992)

10 . सौरव गांगुली (बनाम इंग्लैंड 1996)

11 . वीरेंद्र सहवाग (बनाम दक्षिण अफ्रीका 2001)

12 . सुरेश रैना (बनाम श्रीलंका 2010)

13 . शिखर धवन (बनाम आस्ट्रेलिया 2013)

14 . रोहित शर्मा(बनाम वेस्टइंडीज 2013)

15 . पृथ्वी शॉ (बनाम वेस्टइंडीज 2018)

16 . श्रेयस अय्यर (बनाम न्यूजीलैंड 2021)



और भी पढ़ें :