दूसरे मैच में भी कुछ खास नहीं कर सकी इंग्लैंड, कीवी गेंदबाजों ने किया नाक में दम

Last Updated: गुरुवार, 10 जून 2021 (23:07 IST)
इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच आज से एजबेस्टन टेस्ट मैच का आगाज हो गया है। पहले टेस्ट के ड्रॉ होने के बाद अब दोनों टीमों की निगाहें इस मैच को जीतकर सीरीज जीतने पर भी लगी गई हुई है। मगर दूसरे टेस्ट के शुरू होने से ठीक पहले कीवी टीम को एक बड़ा झटका लगा कप्तान केन विलियमसन के बाद विकेटकीपर बीजे वाटलिंग भी चोट के चलते इस मुकाबले से बाहर हो गए।

मैच का आगाज मेजबान इंग्लैंड के टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के साथ हुआ। टीम की शुरुआत काफी बढ़िया देखने को मिली और पहले विकेट के लिए सलामी बल्लेबाज और डॉमनिक सिबली ने 72 रन जोड़े। यह साझेदारी धीरे-धीरे आगे बढ़ रही थी तभी मैट हैनरी ने सिबली (35) को आउट कर इंग्लैंड को पहला नुकसान पहुंचाया।

टीम अभी एक इस झटके से उबर भी नहीं पाई थी कि नील वैगनर ने अगले ही ओवर में जैक क्राउली को शून्य पर आउट कर दिया। इंग्लैंड की पूरी नजरें अब कप्तान और रोरी बर्न्स पर टिकी हुई थी। रूट ने पहले टेस्ट की तरह एक बार से अपने फैंस को निराश किया और मात्र (4) रन बनाकर मैट हैनरी को अपना विकेट थमा बैठे।


तीन विकेट नियमित अंतराल पर खोने के बाद अब इंग्लैंड की पारी बिखरने लगी थी, लेकिन चौथे विकेट के लिए बर्न्स और ओली पोप ने 42 रन जोड़ टीम को पटरी पर लाने का काम किया। इन दोनों की साझेदारी को देखकर ऐसा लग रहा था कि टीम की पारी अब संभल रही है लेकिन तभी अजाज़ पटेल ने ओली पोप (19) को आउट कर इंग्लैंड को पांचवां झटका पहुंचाया।

हालांकि, पहले टेस्ट में शानदार शतक लगाने वाले रोरी बर्न्स ने अपनी कमाल की फॉर्म को इस मैच में भी जारी रखा और बढ़िया (81) रन बनाए। 30 वर्षीय बाएं हाथ के खिलाड़ी ने 187 गेंदों का सामना करते हुए 81 रनों की पारी खेली और अपनी पारी में 10 चौके भी जमाए। बर्न्स की विकेट ट्रेंट बोल्ट के खाते में आई।


रोरोत बर्न्स के विकेट के बाद विकेट जेम्स बर्सी (0) और ओली स्टोन (20) के स्कोर पर आउट होकर पवेलियन लौटे। दूसरे टेस्ट के पहले दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट के नुकसान पर 258 रन रहा। टीम के लिए डेनियल लॉरेंस (67) और मार्क वुड (16) के स्कोर पर नाबाद है।



और भी पढ़ें :