दीप्ति शर्मा ने नहीं तोड़ा नियम फिर भी भड़क उठे यह पूर्व अंग्रेज क्रिकेटर्स, जानिए लगान कनेक्शन

Last Updated: रविवार, 25 सितम्बर 2022 (16:22 IST)
हमें फॉलो करें
लंदन। भारतीय महिला टीम ने शनिवार को लॉर्ड्स में तीसरा मैच 16 रन से जीतकर तीन मैचों की श्रृंखला में क्लीनस्वीप करके तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी को शानदार विदाई दी। इस मैच के 44वें ओवर में गेंदबाजी कर रही दीप्ति शर्मा ने जैसे ही अपनी गेंद पर को रन आउट किया, क्रिकेट की दुनिया में एक बहस शुरू हो गई। सोशल मीडिया पर भी यह सवाल उठा कि डीन को रन आउट कर क्या दीप्ति शर्मा ने कोई नियम तोड़ा है। इससे इंग्लैंड के खिलाड़ी क्यों है नाराज?

इस मैच में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के नियमों के अनुसार भारतीय ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा का तीसरे महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में चार्ली डीन को रन आउट करना पूरी तरह से वैध है।

दीप्ति ने नॉन स्ट्राइक छोर पर गेंदबाजी करने से पहले आगे निकल गई चार्ली डीन को रन आउट किया जिससे भारत यह मैच जीतने में सफल रहा। चार्ली डीन तब 47 रन पर खेल रही थी और इंग्लैंड को जीत के लिए 17 रन की दरकार थी। यह रन आउट खेल के नियमों के अनुसार था लेकिन इंग्लैंड के खिलाड़ी इससे खुश नहीं थे।
भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर 169 रन पर आउट हो गई। इंग्लैंड की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही लेकिन लग रहा था कि डीन उसे अप्रत्याशित जीत दिलाने में सफल रहेगी लेकिन दीप्ति ने उन्हें रन आउट करके मेजबान टीम की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।
इस तरह का रन आउट हमेशा नियमों के तहत आता था लेकिन इसे खेल भावना के विपरीत माना जाता था। आईसीसी ने हाल में खेल की परिस्थितियों में बदलाव करके इस तरह के रन आउट को ‘अनफेअर प्ले’ से हटाकर ‘रन आउट’ वर्ग में डाल दिया था।

क्यों नाराज है इंग्लैंड के खिलाड़ी :


इंग्लैंड की पुरुष टीम के तेज गेंदबाज ब्रॉड ने ट्वीट किया, 'मुझे मांकड़िंग को लेकर बहस वास्तव में दिलचस्प लगती है। दोनों पक्षों में कई तरह के विचार हैं। मेरा निजी तौर पर मानना है कि मैं इस तरह से मैच जीतना पसंद नहीं करूंगा और मैं इस तरह की अलग सोच रख कर खुश हूं।'
तेज गेंदबाजों में सर्वाधिक विकेट लेने वाले और ब्रॉड के लंबे समय से साथी रहे एंडरसन ने कहा कि मैं कभी यह समझ नहीं पाऊंगा खिलाड़ियों को इसकी जरूरत क्यों पड़ती है।

एक अन्य अंग्रेज खिलाड़ी सैम बिलिंग्स ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'निश्चित रूप से कोई ऐसा व्यक्ति नहीं होगा जिसने यह खेल खेला हो और उसे यह स्वीकार्य हो। यह क्रिकेट का खेल नहीं है।'
हालांकि कई लोगों ने इस घटना को अमिर खान की फिल्म लगान से जोड़ा। इन ट्विट्स में कहा गया है कि भारत ने लगान का बदला ले लिया है। उसमें भारतीय खिलाड़ी को इस तरह रन आउट किया गया था।

कई अन्य खिलाड़ियों ने इस तरह के रन आउट का समर्थन किया और इनमें पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग भी शामिल थे जिन्होंने इंग्लैंड को खिलाड़ियों को हारा हुआ करार दिया।
सहवाग ने ट्वीट किया, 'इतने अधिक अंग्रेजों को हारा हुआ देखना मजेदार है।' एक अन्य ट्वीट में उन्होंने भारतीय टीम को जीत पर बधाई दी जिसने तेज गेंदबाज झूलन को शानदार विदाई दी। सहवाग ने लिखा कि भारतीय लड़कियों की शानदार जीत। श्रृंखला जीतना झूलन गोस्वामी के लिए शानदार विदाई है।

भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर और इस तरह के रन आउट को मांकड़िंग (पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीनू मांकड़ के नाम पर) कहने का विरोध करने वाले रविचंद्रन अश्विन ने भी भारतीय टीम का समर्थन किया।
उन्होंने ट्वीट किया, 'ऐसा क्या हो गया जो आप लोग अश्विन को ट्रेंड कर रहे हो। आज की रात की एक और गेंदबाजी नायिका है दीप्ति शर्मा।'





और भी पढ़ें :