सस्ता हुआ सोना, चांदी भी लुढ़की, सोने में निवेश का क्या अभी सही समय है...

Last Updated: मंगलवार, 30 नवंबर 2021 (15:21 IST)
हमें फॉलो करें
शेयर बाजार में गिरावट और देश में क्रिप्टोकरेंसी के भविष्य पर संशय के बादल के बीच देश में सोना और चांदी के दाम में भी गिरावट आई है। सोने में निवेश सबसे सुरक्षित माना जाता है। ऐसे में लोग यह जानना चाहते हैं कि क्या यह समय सोने में निवेश के लिए सही है।

24 कैरेट शुद्ध सोना इस समय अपने ऑल टाइम हाई रेट 56126 रुपए से 8146 रुपए सस्ता है। आज 24 कैरेट सोना महज 10 रुपए गिरकर 48114 रुपए पर खुला। 22 कैरेट सोने के भाव आज यह 44072 रुपए प्रति 10 ग्राम है, वहीं 18 कैरेट की कीमत 36086 रुपए पर है। इस पर 3 फीसद जीएसटी और मेकिंग चार्ज अलग से है।

वहीं, अगर चांदी की बात करें तो इसका हाजिर भाव 1038 रुपये प्रति किलो टूटकर 62008 रुपये पर आ गया है। वहीं, चांदी अधिकतम रेट 76004 रुपए से 14000 रुपए सस्ती है।
मार्च 2016 में 10 ग्राम सोने की कीमत 28000 रुपए प्रति 10 ग्राम थी जो नवबंर 2021 में 48,000 रुपए तक पहुंच गई है। इस तरह इन 5 सालों में सोने ने भारी रिटर्न दिया है।
बाजार विशेषज्ञ योगेश बागौरा ने कहा कि महंगाई बढ़ने पर लोग सेफ हैवन में निवेश करना चाहते हैं। इसमें नंबर 1 पर गोल्ड-चांदी है। इसके बाद प्रॉपर्टी आती है। इस वजह से बाजार लक्विडिटी आती है। फिलहाल मार्च 2022 तक महंगाई बढ़ती दिख रही है। सरकार के उपाय नाकाफी दिख रहे हैं। सोना 51 हजार से 52 हजार तक जा सकता है। वहीं चांदी 65000 से 67000 की रेंज जा सकती है।
उन्होंने कहा कि महंगाई बढ़ने का मुख्य कारण कच्चा तेल है। जब तक ओपेक देशों पर कंट्रोल नहीं किया जाएगा तब तक तेल में भारी उतार चढ़ाव चलता रहेगा

और बाजार पर भी इसका असर दिखाई देगा।

केडिया कमोडिटीज के डायरेक्टर अजय केडिया के मुताबिक अगले दो साल तक सोने में तेजी रहेगी, क्योंकि पिछले 20 साल के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो सोने में जब तेजी आती है तो 2 से 4 साल तक रहती है। चाहे वह साल 2000 से 2004 की तेजी हो या 2008 से 2011 की। इस बार गोल्ड में तेजी 2020 में आई और यह 2022-23 तक रह सकती है।
क्रिप्टो और शेयर बाजार के ज्यादा जोखिम को देखते हुए बड़ी संख्‍या में लोग निवेश के लिए सोने चांदी पर नजर बनाए हुए हैं।



और भी पढ़ें :