भारत की वृद्धि दर 4.9 प्रतिशत रहेगी

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 23 अक्टूबर 2013 (15:22 IST)
FILE
नई दिल्ली। इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च का अनुमान है कि घरेलू और बाह्य कारकों के असर से चालू वित्त वर्ष में के (जीडीपी) की 4.9 प्रतिशत रहेगी। इंडिया रेटिंग्स के मुताबिक ने वृद्धि दर को संभाल लिया है नहीं तो वृद्धि बहुत कम होती।


इंडिया रेटिंग्स ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था 2011-12 से नरमी से जूझ रही है और चालू वित्त वर्ष में इसकी वृद्धि दर 4.9 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। यह इसकी भावनाओं और पिछले 10 साल के औसत से बहुत कम है। अर्थव्यवस्था पिछले एक दशक में औसतन 7.9 प्रतिशत की दर से बढ़ी।

एजेंसी ने कहा कि अच्छे मानसून के कारण होने वाली ऊंची कृषि-वृद्धि दर के बगैर 2013 -14 की सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर बहुत कम होती। इंडिया रेटिंग्स को उम्मीद है कि इस वित्त वर्ष में कृषि क्षेत्र की वद्धि दर 4.5 प्रतिशत रहेगी, जो 2012-13 में 1.8 प्रतिशत थी। (भाषा)



और भी पढ़ें :