हनुमानजी को नारियल चढ़ाने के 2 फायदे

हनुमानजी की पूजा अलग-अलग तरीके से की जाती है। लेकिन भक्त को तो किसी भी तरीके से कोई मतलब नहीं और भक्त लाभ की चिंता नहीं करता है। हनुमानजी का नाम ही उसके लिए मंत्र, चालीसा और पूजा है। फिर भी जो कोई भक्त यदि संकट में हो और उसे हनुमानजी को जल्दी प्रसन्न करना हो तो इसके लिए संकट के अनुसार कई तरह की चीजें चढ़ाने के बारे में बताया गया है। यहां जानिए कि चढ़ाने से हनुमानजी किस तरह प्रसन्न होकर भक्तों की किस तरह से मदद करते हैं।

जैसे कहते हैं कि यदि आपके जीवन में कोई घोर संकट है या ऐसा काम है जिसे करना आपके बस का नहीं है, तो आप अपनी जिम्मेदारी हनुमानजी को सौंप दें। इसके लिए आप मंगलवार के दिन किसी मंदिर में पूजा-पाठ करने के बाद उन्हें पान का बीड़ा अर्पित करें। रसीला बनारसी पान चढ़ाकर मांग लीजिए मनचाहा वरदान। इसी तरह यदि आपको गरीबी सता रही है, अलाबला या तंत्र मंत्र का शक है तो ये कार्य करें।

1. गरीबी से मुक्ति के लिए 1 नारियल पर सिन्दूर लगाएं और मौली यानी लाल धागा बांधें। इसके बाद यह नारियल हनुमानजी को चढ़ाएं। ऐसा कम से कम 11 मंगलवार को करें। निश्‍चित ही धीरे धीरे आप गरीबी के बंधन से मुक्त हो जाएंगे। हनुमान चालीसा पढ़ते रहें।
2. यदि इसी तरह के एक नारियल को लाल कपड़े में राई के साथ लपेटकर घर के दरवाजे पर बांध दिया जाए, तो घर में किसी भी प्रकार की अला-बला नहीं आती है, जादू-मंतर या तंत्र का असर नहीं होता है और किसी की नजर भी नहीं लगती है। हनुमान चालीसा पढ़ते रहें।



और भी पढ़ें :