राजस्थान रॉयल्स को दूसरे रैंक पर रोकने के लिए मैदान पर उतरेगी चेन्नई सुपर किंग्स

पुनः संशोधित शुक्रवार, 20 मई 2022 (10:49 IST)
हमें फॉलो करें
की टीम के खिलाफ ब्रेबॉर्न स्टेडियम में शुक्रवार को होने वाले आईपीएल मुकाबले में जीत हासिल कर टॉप दो टीमों में जगह बनाने के इरादे से उतरेगी।

राजस्थान इस समंय 13 मैचों में आठ जीत और 16 अंकों के साथ तालिका में तीसरे स्थान पर है और इस मुकाबले में जीत उसे दूसरे स्थान पर पहुंचा देगी क्योंकि वह नेट रन रेट में दूसरे स्थान पर मौजूद लखनऊ सुपर जायंट्स से बेहतर स्थिति में है। दूसरी तरफ चेन्नई 13 मैचों में चार जीत और आठ अंकों के साथ नौंवें स्थान पर है और इस मुकाबले में जीत के बावजूद भी वह इसी स्थान पर रहेगा।

हेड टू हेड रिकॉर्ड

हेड टू हेड रिकॉर्ड पर नजर डालें तो चेन्नई और राजस्थान के बीच में 25 मैच हुए हैं। इसमें से 15 चेन्नई ने जीते हैं और 10 राजस्थान ने। इस सत्र में पहली बार यह दोनों टीमें आमने सामने हो रही है। हालांकि अब इस मैच का टूर्नामेंट में सिर्फ इतना फर्क पड़ेगा कि राजस्थान पहले प्लेऑफ में गुजरात से भिड़ती है या फिर एलिमिनेटर में दिल्ली या बैंगलोर से।

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी फिलहाल एकमात्र ताकत

चेन्नई की टीम के कुल प्रदर्शन में से कोई बड़ी ताकत निकाल पाना मुश्किल है। फिलहाल सिर्फ यह ही कहा जा सकता है कि टीम के महेंद्र सिंह धोनी कप्तान है तो मैदान पर कुछ अहम निर्णय लेने के लिए उनके पास अनुभव ज्यादा होगा।मुंबई के खिलाफ मैच में धोनी ने ही टीम की नैया पार लगाई थी।

चोटों से चेन्नई का बुरा हाल

दूसरी ओर चेन्नई को खिलाड़ियों की चोटों और खराब फॉर्म ने परेशान किया है। दीपक चाहर और एडम मिल्ने चोट के कारण पूरे सत्र से बाहर हैं जबकि रविंद्र जडेजा भी चोट के चलते पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। अंबाती रायुडू, धोनी, शिवम दुबे और मोईन अली ने टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन किया है ।गेंदबाजी में महीष तीक्षणा, मुकेश चौधरी और ड्वेन ब्रावो को विकेट मिले हैं लेकिन वे महंगे रहे हैं।

राजस्थान के पास हैं सर्वाधिक रन बनाने और विकेट लेने वाले 2 खिलाड़ी

राजस्थान ने कितना बेहतरीन खेल दिखाया है इसका अंदाजा इस ही बात से लगाया जा सकता है कि सर्वाधिक रन बनाने और विकेट लेने वाले खिलाड़ी दोनों ही राजस्थान के पास है।

जॉस बटलर ने तो अपना तीसरा शतक आईपीएल 2022 में लगा दिया। ऐसे टूूर्नामेंट में जहां बल्लेबाज अपने फॉर्म के लिए जूझ रहे हो आईपीएल के पहले 35 मैचों में 3 शतक लगाना एक खास बात है। अपने 13 मैचों की 13 पारियों में जॉस बटलर 52 की शानदार औसत और 148 की बेहतरीन स्ट्राइक रेट से 627 रन बनाए हैं।

वहीं सर्वाधिक विकटों की बात करें तो यह कमाल की हैट्रिक ले चुके युजवेंद्र चहल के पास है। युजवेंद्र चहल अब तक इस सत्र में वह 13 मैचों में 52 ओवर डालकर 404 रन देकर 24 विकेट ले चुके हैं। कोलकाता के खिलाफ किया गया उनका प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ है जिसमें उन्होंने 40 रन देकर 5 विकेट लिए थे।

कुछ खिलाड़ियों पर है राजस्थान की अति निर्भरता

राजस्थान इन दोनों ही खिलाड़ियों पर अति निर्भर दिखता है। बाकी खिलाड़ी लय से जूझ रहे है, जिसमें सबसे पहले नाम आता है कप्तान संजू सैमसन का। इसके अलावा देवदत्त पड्डीकल, शिमरन हिटमायर, गेंदबाजी में प्रसिद्ध कृष्णा और ट्रैंट बोल्ट। यह खिलाड़ी कभी अच्छा खेलते हैं कभी बुरा।

इन खिलाड़ियों पर रहेंगी निगाहें

चेन्नई के सलामी बल्लेबाज़ डेवोन कॉन्वे हाल ही में वानखेड़े स्टेडियम में दो छोटे निजी स्कोर बनाने के बाद ज़ोरदार वापसी कर सकते हैं। उन्होंने चेन्नई के लिए बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया है। छह पारियों में कॉन्वे ने 148.42 के स्ट्राइक रेट से 236 रन बनाए हैं। वह बीच के ओवरों में 179.74 की स्ट्राइक रेट से 142 रन बनाकर विशेष रूप से गेंदबाज़ों पर अच्छा प्रहार कर रहे हैं।

चेन्नई के नंबर तीन बल्लेबाज़ मोईन अली इस सीज़न में बल्ले से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं पा रहे हैं, लेकिन गेंद के साथ उन्होंने बढ़िया प्रदर्शन किया है। पिछले चार मैचों में उन्होंने 9.86 की औसत और 5.83 की इकॉनमी से सात विकेट लिए हैं। पिछले सीजन में उन्होंने इसी विपक्षी टीम के ख़िलाफ़ तीन ओवर में सात रन देकर तीन विकेट लिए थे।

मतीसा पथिराना आईपीएल में शामिल होने वाले पहले अनकैप्ड श्रीलंकाई खिलाड़ी हैं। पथिराना ने अपनी पहली ही गेंद पर विकेट लेकर आईपीएल की धमाकेदार शुरुआत की थी। उन्होंने पिछले मैच में 3.1 ओवर में 24 रन देकर 2 विकेट लिया। उन्होंने अंडर 19 विश्व कप 2021/22 में भी चार मैचों में सात विकेट लिए थे।

घरेलू क्रिकेट में मुंबई के लिए खेलने वाले राजस्थान के सलामी बल्लेबाज़ यशस्वी जायसवाल पिछले तीन मैचों में से दो में अपनी टीम के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे हैं। जब से वह वापस टीम में आए हैं, वह आक्रामक इरादे दिखा रहे हैं जिससे उन्हें काफ़ी मदद मिली है। पिछली बार जब वह सीएसके के खिलाफ खेले थे, तो उन्होंने अपना पहला आईपीएल अर्धशतक बनाया था। उस दौरान उन्होंने 21 गेंदों में 50 रनों की पारी खेली थी।

शिमरन हिटमायर राजस्थान की टीम से वापस जुड़ गए हैं। यह अच्छी बात रही कि उनकी कमी टीम को नहीं खली। वह उन्हें आज मौका देकर प्लेऑफ का अभ्यास करवाना चाहेगी और हिटमायर भी लय में आने के लिए बेकरार होंगे।

अपने युवा करियर में अधिकांश समय के लिए बल्लेबाज़ी की शुरुआत करने के बाद देवदत्त पडिकल इस सीज़न में राजस्थान के लिए नंबर चार पर बल्लेबाज़ी कर रहे हैं। कर्नाटक के इस युवा खिलाड़ी ने इस सीज़न में चौथे नंबर पर बल्लेबाज़ी करते हुए 39, 48, 31 और 41 के स्कोर दर्ज किया है और टीम के द्वारा दी गई जिम्मेदारी को निभाया है।

टीमें :

चेन्नई सुपर किंग्स: एमएस धोनी, रविंद्र जडेजा (कप्तान), मोईन अली, रुतुराज गायकवाड़, ड्वेन ब्रावो, दीपक चाहर, अंबाती रायडू, रॉबिन उथप्पा, मिशेल सेंटनर, क्रिस जॉर्डन, एडम मिल्ने, डेवोन कॉनवे, शिवम दूबे, ड्वेन प्रिटोरियस, महेश तीक्ष्णा, राजवर्धन हैंगरगेकर, तुषार देशपांडे, केएम आसिफ, सी हरि निशांत, एन जगदीशन, सुब्रंशु सेनापति, के भगत वर्मा, प्रशांत सोलंकी, सिमरजीत सिंह, मुकेश चौधरी और माथिशा पाथिराना।

राजस्थान रॉयल्स: संजू सैमसन (कप्तान), जोस बटलर, यशस्वी जायसवाल, रविचंद्रन अश्विन, ट्रेंट बोल्ट, शिमरोन हेटमायर, देवदत्त पडिक्कल, प्रसिद्ध कृष्णा, युजवेंद्र चहल, रियान पराग, केसी करियप्पा, नवदीप सैनी, ओबेद मैकॉय, अनुनय सिंह, कुलदीप सेन , करुण नायर, ध्रुव जुरेल, तेजस बरोका, कुलदीप यादव, शुभम गढ़वाल, जेम्स नीशाम, नाथन कूल्टर-नाइल, रेस वान डेर डुसेन, डेरिल मिशेल और कोरबिन बॉश।



और भी पढ़ें :