1. खेल-संसार
  2. आईपीएल 2022
  3. आईपीएल 2022 न्यूज़
  4. Kuldeep Sen proved to be an eleventh hour savior for Rajasthan Royals
Written By
Last Updated: सोमवार, 11 अप्रैल 2022 (14:18 IST)

राजस्थान के ये रजवाड़े लखनऊ के नवाबों पर पड़े भारी, अंतिम ओवर में मैच पलटा

अंतिम गेंद तक चले रोमांचक मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स ने लखनऊ सुपर जाएंट्स को 3 रनों से हराकर विपक्षी टीम का विजयी रथ रोक दिया।  

राजस्थान रॉयल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग मुकाबले में रविवार को यहां लखनऊ सुपर जायंट्स को तीन रन से हरायाजीत के लिए 166 रन का पीछा करते हुए लखनऊ की टीम आठ विकेट पर 162 रन बना सकी।

लखनऊ के लिए क्विंटन डिकॉक ने 39 और मार्कस स्टोइनिस नाबाद 38 रन बनाये। राजस्थान के लिए युजवेंद्र चहल ने चार विकेट लिये।इस जीत से राजस्थान की टीम तालिका में शीर्ष पर पहुंच गयी।

यह बने रिकॉर्ड्स

राजस्थान के स्पिनर युजवेंद्र चहल ने सबसे कम आईपीएल मैचों में 150 विकेट लेने का रिकॉर्ड बना लिया है। उन्हें सिर्फ 118 मैच में यह रिकॉर्ड बनाया। इस सत्र में सबसे ज्यादा छक्कों की बात की जाए तो राजस्थान के 2 बल्लेबाज टॉप पर हैं।  जॉस बटलर (15) और शिमरन हिटमायर (14) छक्के लगा चुके हैं।

राजस्थान के यह बने रजवाड़े

शेमरन हेटमायर ने रविचंद्रन अश्विन (28) के साथ पांचवें विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी कर टीम की मैच में वापसी करायी। उन्होंने कृष्णप्पा गौतम की गेंद पर कृणाल पंड्या द्वारा आसान कैच टपकाये जाने का पूरा फायदा उठाते हुए 36 गेंद की नाबाद पारी में छह छक्के और एक चौका जड़ा। हेटमायर ने 18वें ओवर में होल्डर के खिलाफ छक्का जड़कर अश्विन के साथ पांचवें विकेट के लिए 7.3 ओवर में 50 रन की साझेदारी पूरी करने के बाद एक और छक्का जड़कर रन गति को तेज किया। हेटमायर ने आवेश खान के इस ओवर में लगातार दो छक्के लगाकर 33 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया।

आखिरी ओवर में गेंदबाजी के लिये आये होल्डर के खिलाफ हेटमायर और रियान पराग ने छक्के जड़ कर टीम के स्कोर को 160 के पार पहुंचाया।राजस्थान की टीम ने आखिरी तीन ओवरों में 50 रन जोड़े। हेटमायर  ने 36 गेंदो पर नाबाद 1 चौके और 6 छक्के के साथ 59 रन बनाए।

रविचंद्रन अश्विन ने पिछले मैच से सीख ली और इस मैच में हरफनमौला प्रदर्शन किया। अश्विन ने 16वें ओवर की शुरुआती दो गेंदों पर कृष्णप्पा के खिलाफ दो छक्के जड़कर टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। इस ओवर से 16 रन बने।अगले ओवर की दूसरी गेंद के बाद अश्विन रिटायर आउट हो कर पवेलियन लौट गये । वह इस तरह पवेलियन लौटने वाले आईपीएल के पहले बल्लेबाज बने। लेकिन वह 23 गेंदो में 28 रन बना गए।

वहीं गेंदबाजी की बात करें तो अश्विन भले ही आज विकेट निकालने में नाकामयाब रहे लेकिन वह महंगे साबित नहीं हुए। 5 की इकॉनोमी से उन्होंने 4 ओवरों में सिर्फ 20 रन दिए।

वहीं इसके उल्ट आज  युजवेंद्र चहल राजस्थान के सबसे महंगे गेंदबाज थे लेकिन उन्होंने लखनऊ के 4 विकेट निकाले। डिकॉक ने 12 वें ओवर में चहल के खिलाफ चौका लगाया लेकिन इस चतुर गेंदबाज ने शानदार लय में चल रहे आयुष बडोनी (पांच रन) को अपनी फिरकी में फंसा कर आउट किया। उन्होंने 16वें ओवर में डिकॉक और कृणाल को आउट कर लखनऊ को दो बड़े झटके दिये।  32 गेंद में दो चौके एक छक्का की मदद से 39 रन बनाने वाले डिकॉक का कैच रियान पराग ने पकड़ा तो वहीं कृणाल 15 गेंद में 22 रन बनाकर बोल्ड हुए।

युजवेंद्र चहल ने 10.25 की इकॉनोमी से 41 रन देकर 4 ओवरों में 4 विकेट लिए।

लखनऊ के यह खिलाड़ी हुए फ्लॉप

ऑलराउंडर जेसन होल्डर लखनऊ के लिए खासे महंगे साबित हुए। भले ही उन्होंने कप्तान संजू सैमसन और रियान पराग का विकेट लिए या लेकिन अपने 4 ओवरों में उन्होंने 12.5 की इकॉनोमी से 50 रन दिए। वहीं बल्लेबाजी में भी उन्होंने 14 गेंदो में 8 रन बनाए।

अमूमन लक्ष्य का पीछा करने के लिए जाने वाले कप्तान केएल राहुल आज अपना खाता भी नहीं खोल पाए और पहले ही ओवर में बोल्ड हो गए जिससे टीम पर खासा दबाव बढ़ गया।

दीपक हुड्डा ने भी अपनी बल्लेबाजी से निराश किया और 24 गेंदो में सिर्फ 23 रन ही बना पाए। आज कप्तान ने उनको छोटी बाउंड्री लाइन को ध्यान में रखते हुए गेंदबाजी नहीं सौंपी।

आखिरी ओवर रहा टर्निंग प्वाइंट

लखनऊ की जीत के लिए आखिरी ओवर 15 रन चाहिए थे और क्रीज पर मार्कस स्टोइनिस  मौजूद थे लेकिन पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज कुलदीप सेन (35 रन पर एक विकेट) ने शानदार गेंदबाजी कर राजस्थान को जीत दिला दी।दिलचस्प बात यह रही कि कुलदीप सेन का यह पहला ही मैच था। उन्होंने 4 ओवर में 35 रन देकर 1 विकेट लिया।

शुरुआती झटकों के बाद भी केएल राहुल को थी जीत की उम्मीद

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ रोमांचक मुकाबले को तीन रन से गंवाने के बाद लखनऊ सुपर जायंट्स के कप्तान लोकेश राहुल ने रविवार को यहां कहा कि उनकी टीम ऐसे बल्लेबाज है जो किसी भी स्थिति में मैच का रुख बदल सकते है।

राजस्थान ने इंडियन प्रीमियर लीग के इस मैच में छह विकेट पर 165 रन बनाये के बाद लखनऊ की पारी को आठ विकेट पर 162 रन पर रोक दिया। लखनऊ की टीम ने एक रन दो और फिर 14 रन पर तीन विकेट गंवाने के बाद मैच में शानदार वापसी की लेकिन लक्ष्य से तीन रन दूर रह गये।

राहुल ने मैच के बाद पुरस्कार समारोह में कहा, ‘‘हमारे पास ऐसी टीम है जो कभी मुकाबले से बाहर नहीं होती। हम शुरुआत में तीन विकेट गिरने के बाद भी जीतने के बारे में सोच रहे थे। हमें बीच के ओवरों में अच्छी साझेदारी की जरूरत थी। आखिर में स्टॉयनिस ने टीम को जीत दिलाने की पूरी कोशिश की।’’

उन्होंने 17 गेंद में नाबाद 38 रन बनाने वाले मार्कस स्टोइनिस को बल्लेबाजी में आठवें क्रम पर भेजने के फैसले का बचाव करते हुए कहा, ‘‘ स्टॉयनिस को बाद में भेजने का फैसला इसलिए किया था क्योकि हमारे पास कई खिलाड़ी हैं जो बल्लेबाजी कर सकते हैं, ऐसे में हम उस मुश्किल समय को निकालना चाहते थे।’’

संजू सैमसन ने की कुलदीप सेन की तारीफ

राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने आखिरी ओवर में स्टोइनिस के सामने 15 रन का बचाव करने वाले पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज कुलदीप सेन की तारीफ की।

उन्होंने कहा, ‘‘सेन ने अपने शुरूआती तीन ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की थी। मैंने उसे सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में देखा था। उसके पास अच्छा कौशल है और वह भारत के लिए खेल सकता है। उसमें वाइड यॉर्कर डालने का आत्मविश्वास था।’’उन्होंने 41 रन देकर चार विकेट लेने वाले मैन ऑफ द मैच युजवेंद्र चहल को मौजूदा समय का सर्वश्रेष्ठ लेग स्पिनर करार दिया।

राजस्थान रॉयल्स: 3/5

लखनऊ सुपर जाएंट्स:-2/5
ये भी पढ़ें
आज की ड्रीम टीम में शामिल कीजिए सिर्फ 1 कप्तान, ऑलराउंडर्स में तेवतिया को ना करें नजरअंदाज