रोहित शर्मा ने खुद को जोड़ा ‘ Save The Rhino’ कैंपेन के साथ, पहने यह जूते

पुनः संशोधित शनिवार, 10 अप्रैल 2021 (17:43 IST)
चेन्नई:मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा वैसे तो शांत स्वभाव के हैं, लेकिन मैदान पर उनका बल्ला काफी बोलता है। रोहित ने अपने इसी अंदाज को कायम रखते हुए मौजूदा सत्र में ग्रेट वन-हॉर्नड राइनोसोर्स अथवा भारतीय राइनो को बचाने के प्रति जागरुकता बढ़ाने का एक अनोखा तरीका अपनाया है।

दरअसल रोहित कल रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के खिलाफ इस सत्र के पहले आइपीएल मुकाबले में खास तरीके से डिजाइन जूते पहन कर खेलने उतरे, जिसमें ग्रेट वन-हॉर्नड राइनोसोर्स अथवा भारतीय राइनो जैसी लुप्तप्राय प्रजातियों को दर्शाया गया है, जिन्हें बचाने की बात रोहित हमेशा करते हैं।
उनके जूतों पर एक खास कला के माध्यम से भारतीय राइनो छपे हुए थे और साथ ही लिखा था कि ‘ सेव द राइनो ’। यकीनन उनकी इस पहल से अधिक से अधिक लोग इस बारे में शिक्षित होंगे और विलुप्त होने वाली प्रजातियों को बचाने की दिशा में किए जा रहे उनके प्रयासों को और बल मिलेगा।
रोहित ने शनिवार को अपने सोशल मीडिया पोस्ट में एक फोटो साझा करते हुए इस बारे में कहा, “ कल जब मैं मैदान पर गया तो यह मेरे लिए सिर्फ एक मैच नहीं था, बल्कि मैच से कहीं ज्यादा था। क्रिकेट खेलना मेरा सपना रहा है और इस दुनिया को एक बेहतर जगह बनाने में मदद करना भी एक ऐसा कारण है जिस पर हम सभी को काम करने की जरूरत है और मेरे लिए मेरे दिल के करीब राइनो प्रजाति को विलुप्त होने से बचाने के मकसद के साथ मैदान पर जाना बेहद खास था। ”

दक्षिण अफ्रीकी मूल के इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी ने ट्विटर पर इस वाक्ये का वर्णन किया और फोटो अपलोड कर कैप्शन में लिखा कि, 'इस महान बल्लेबाज के जूतों पर नजर डालिए। रोहित शर्मा लगातार एक अच्छे कारण के लिए खेल रहे हैं -
गैंडों को बचाइए '
अगर केविन पीटरसन की ट्विटर प्रोफाइल देखी जाए तो पता चल सकता है कि उनको
गैंडों से कितना लगाव है। कवर फोटो में पीटरसन गैंडा के साथ नजर आते हैं और बायों में भी गैंडे का इमोजी रखा हुआ है।

दुनिया में बचे अनुमानित 3500 भारतीय गैंडों में से 82 प्रतिशत भारत में पाए जाते हैं। बहुत पहले सिंधु, गंगा और ब्रह्मपुत्र नदी के घाटों पर बहुतायत से पाए जाने वाला यह वन्य प्राणी अब केवल असम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश में चुनिंदा राष्ट्रीय उद्यानों में ही सीमित है।

भारतीय गैंडे को कई खतरों का सामना करना पड़ता है, जिसमें शिकार, निवास स्थान का नुकसान और इनब्रीडिंग और बीमारी से सामूहिक मृत्यु दर शामिल है।

कल अंतिम गेंद पर मुंबई इंडियन्स भले ही रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से हार गई हो लेकिन रोहित के इस कदम से ना केवल उनके फैंस का बल्कि देश भर के फैंस का दिल जीत लिया।



और भी पढ़ें :