ओलंपिक विजेता एथलीट हुआ एबी का फैन कहा, 'द.अफ्रीका तुम्हें इस खिलाड़ी की जरूरत है'

Last Updated: सोमवार, 19 अप्रैल 2021 (20:19 IST)
नई दिल्ली:जमैका के स्टार धावक योहान ब्लेक क्रिकेट के मुरीद हैं और वह चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय संन्यास से वापसी कर सहित आगामी टूर्नामेंट में दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करें। (फोटो सौजन्य-UNI)
डिविलियर्स खुद भी भारत में इस साल के अंत में होने वाले टी20 विश्व कप में खेलने को उत्सुक हैं और इंडियन प्रीमियर लीग के अंत में उनके इस मुद्दे पर राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच मार्क बाउचर से बात करने की उम्मीद है।

ब्लेक ने डिविलियर्स की रविवार को चेन्नई में इंडियन प्रीमियर लीग में खेली गयी शानदार पारी के बाद ट्वीट किया, ‘‘वाह, डिविलियर्स अलग स्तर का खिलाड़ी है। दक्षिण अफ्रीका तुम्हें इस खिलाड़ी की जरूरत है। ’’
ओलंपिक रजत पदक विजेता ब्लेक 100 मीटर के युवा विश्व चैम्पियन हैं, वह पहले भी विराट कोहली और डिविलियर्स की वजह से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिये खेलने की इच्छा जता चुके हैं।
डिविलियर्स ने मई 2018 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को कोलकाता नाइट राइडर्स पर जीत दिलाने के बाद कहा, ‘‘हमें आईपीएल के दौरान कुछ बातचीत करनी है। लेकिन हां, हम इसके बारे में पहले से ही बातें कर रहे हैं। ’’

सैंतीस साल के इस खिलाड़ी ने साथ ही कहा, ‘‘अगर मेरे लिये कोई जगह नहीं है तो कोई बात नहीं। अगर मैं इसमें शामिल हो सकता हूं और अगर मुझे स्थान मिल जाता है तो यह शानदार होगा। आईपीएल के अंत में बाउची (मार्क बाउचर) के साथ बाचतीत का इंतजार कर रहा हूं और हम इसके अनुसार ही योजना बनायेंगे। ’’
डिविलियर्स ने फिर जाहिर की टी-20 विश्व कप में खेलने की इच्छा
दक्षिण अफ्रीकाई बल्लेबाज एबी डिविलियर्स ने एक बार फिर भारत में इस साल के अंत में होने वाले टी-20 विश्व कप में खेलने की इच्छा जाहिर की है। डिविलियर्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मौजूदा रहे सत्र में शानदार फॉर्म में हैं और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु (आरसीबी) में प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं, जिसने तीन में से तीन मुकाबले जीत कर छह अंक के साथ अंक तालिका में शीर्ष स्थान पर कब्जा कर लिया है।
डीविलियर्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ यहां रविवार को मैच जीतने के बाद पुष्टि की कि वह अपनी वापसी पर पूर्व साथी और दक्षिण अफ्रीकाई टीम के मौजूदा मुख्य कोच मार्क बाउचर के साथ चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा, “ मैंने अभी तक बाउची (मार्क बाउचर) के साथ चर्चा नहीं की है। हमें आईपीएल के दौरान कहीं न कहीं बातचीत करने के लिए लाइन अप किया जाता है। इस दौरान हम इस बारे में बातचीत करने को देख रहे हैं। पिछले साल उन्होंने मुझसे पूछा था कि क्या मेरी विश्व कप खेलने में दिलचस्पी है और मैंने कहा था ‘ बिल्कुल ’। आइपीएल के अंत में हम एक बार मेरा फॉर्म और फिटनेस देखेंगे और फिर फैसला लेंगे। ”
डिविलियर्स ने कहा, “ टीम की स्थिति पर नजर डाली जाए तो पिछले कुछ समय से खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। अगर मेरे लिए कोई जगह नहीं है, तो ठीक है, लेकिन अगर मैं वहां जा सकता हूं तो यह शानदार होगा। आईपीएल के अंत में बाउचर के साथ बातचीत का इंतजार है और हम फिर उसी के अनुसार योजना बनाएंगे। ”

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में संन्यास लेने के बाद डिविलियर्स ने इंग्लैंड में एकदिवसीय विश्व कप में खेलने का आखिरी प्रयास किया था, हालांकि टीम प्रबंधन और चयनकर्ताओं ने इस बात पर सहमति जताई कि डिविलियर्स को 15 सदस्यीय टीम में शामिल करने में बहुत देर हो गई है। हाल ही में संपन्न दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच चल रही टी-20 श्रृंखला के दौरान भी बाउचर ने यह पुष्टि की थी कि आईपीएल के लिए रवाना होने से पहले उनके और डिविलियर्स के बीच बातचीत हुई है।
बाउचर ने कहा था, “ बातचीत अभी भी खुली है। एबी वह व्यक्ति हैं जो यह साबित करने के लिए कि वह अभी भी विश्व क्रिकेट में एक प्रमुख खिलाड़ी हैं और अभी भी इस स्तर पर अपना प्रभाव दिखा सकते हैं, जो आईपीएल में बहुत अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं। मैंने उनसे कहा, “ आप जाओ और जो करना है वो करो और मैं आईपीएल के अंत में आपके साथ बात करूंगा और देखूंगा कि आप कहां हैं। ”

37 वर्षीय अब्राहम बेंजामिन डीविलियर्स ने अपने शानदार करियर में 114 टेस्ट मैचों में 50.66 के औसत से 8,765 रन बनाए जिनमें 22 शतक और 46 अर्द्धशतक शामिल हैं। संन्यास की घोषणा से पहले उन्हें डीविलियर्स को भारत के विराट कोहली और न्यूजीलैंड के केन विलियमसन के साथ सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माना जाता था। उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 278 रनों का रहा।
डीविलियर्स बल्लेबाज होने के साथ-साथ एक शानदार विकेटकीपर भी रहे जिन्होंने टेस्ट मैचों में 222 कैच लपके और 5 स्टम्प्स किए। उन्होंने 228 वनडे में 53.50 के शानदार औसत से 9,577 रन बनाए जिनमें 25 शतक और 53 अर्द्धशतक शामिल हैं। उन्होंने विकेट के पीछे 176 कैच लपके और 5 स्टम्पिंग की।

ट्वंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में डीविलियर्स ने 78 मुकाबलों में 1,672 रन बनाने के अलावा विकेट के पीछे 65 कैच और 7 स्टम्प किए। डीविलियर्स ने अपना टेस्ट करियर 17 दिसंबर 2004 को पोर्ट एलिजाबेथ में इंग्लैंड के खिलाफ, वनडे करियर 2 फरवरी 2005 को ब्लूमफोंटेन में इंग्लैंड के खिलाफ और ट्वंटी-20 करियर 24 फरवरी 2006 को जोहानसबर्ग में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू किया था।



और भी पढ़ें :