भारत के हाथ में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों की डोर, ये हैं Indian CEO’s

CEO
ट्विटर के सह-संस्थापक जैक डॉर्सी के इस्‍तीफे के बाद अब ट्विटर की कमान भारतीय मूल के एक यंग मेन पराग अग्रवाल ने संभाल ली है, अब वे ट्व‍िटर के नए सीईओ होंगे।

इस खबर के सामने आने के बाद पूरी दुनिया में भारत के डंके की गूंज है। चर्चा है कि आधी दुनिया की मल्‍टीनेशनल कंपनियों की डोर देशी सीईओ’ज यानि भारतीय लोगों ने थाम रखी है। इतना ही नहीं, दुनिया की ज्‍यादातर डि‍जिटल कंपनियों के प्रमुख भी भारतीय हैं।

आइए जानते हैं ऐसे भारतीय शख्‍स‍ियतों के बारे में जो दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल से लेकर, टेक्नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट, कंप्यूटर हार्डवेयर कंपनी आईबीएम, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर कंपनी एडोब, प्रोफेशनल सर्विसेज कंपनी डेलॉयट जैसी बड़ी कंपनियों के सीईओ के पद पर बैठे हैं।

के CEO पराग अग्रवाल
दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट Twitter के सह‍-संस्‍थापक जैक डॉर्सी ने इस्‍तीफा दे दिया है, इसके बाद भारत के पराग अग्रवाल को नया सीईओ बनाया है। पराग इसके पहले कंपनी में चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर (सीटीओ) थे। उन्होंने 2011 में इंजीनियर के पद पर कंपनी ज्वाइन करने के बाद सीटीओ तक का सफर तय किया और अब सीईओ बन गए हैं। पराग ने आईआईटी बॉम्बे से इंजीनियरिंग और कैलिफोर्निया की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से पीएचडी की है।

सुंदर पिचाई के हाथ की कमान
दुनि‍या का सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल को कौन नहीं जानता, इसके बिना आज दुनिया अधूरी है। इसके सुंदर पिचाई हैं। सुंदर पिचाई को साल 2015 में गूगल कंपनी का सीईओ नियुक्त किया गया था। उन्‍होंने साल 2004 में उन्होंने गूगल ज्वाइन किया था।

सत्या नडेला के पास की डोर
सॉफ्टवेयर कंपनी Microsoft में भी भारत का डंका है। यहां इस कंपनी के CEO भारतीय मूल के सत्या नडेला हैं। हैदराबाद में जन्मे नडेला 2014 में कंपनी के सीईओ नियुक्त किए गए थे और अभी तक इसी पद पर हैं।

IBM में भारत के अरविंद कृष्णा
कंप्यूटर हार्डवेयर कंपनी में CEO का पद भी भारत के अरविंद कृष्णा के पास है। अरविंद का जन्म भारत के आंध्र प्रदेश में हुआ था और साल 2020 में उन्हें आईबीएम कंपनी का सीईओ बनाया गया था। अरविंद कृष्णा ने आईआईटी कानपुर से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की है।

Adobe Inc के शांतनु नारायण
शांतनु ने 1998 में सीनियर वाइस प्रेसिडेंट (वर्ल्डवाइड प्रोडक्ट रिसर्च) के रूप में अडोब इंक ज्वॉइन की थी। 2005 में वह इसके सीईओ बने। वह अडोब फाउंडेशन बोर्ड के प्रेसीडेंट भी हैं। 2011 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उन्हें अपने मैनेजमेंट एडवाइजरी बोर्ड का सदस्य नियुक्त किया था।

शांतनु नारायण का जन्म हैदराबाद में हुआ था। मां अमेरिकी साहित्य पढ़ातीं थीं। पिता की प्लास्टिक के सामान की कंपनी थी। शांतनु ने उस्मानिया यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंजीनियरिंग में बैचलर करने के बाद बर्कले यूनिवर्सिटी कैलिफोर्निया से एमबीए और बॉउलिंग ग्रीन स्टेट यूनिवर्सिटी से कम्प्यूटर साइंस में मास्टर्स किया है। एपल में काम करने के बाद उन्होंने ऑनलाइन फोटो शेयरिंग कंपनी पिक्ट्रा बनाई थी।

संजय मेहरोत्रा President & CEO, Technology
कानपुर में जन्मे 58 साल के मेहरोत्रा ने सैनडिस्क कंपनी बनाई थी। उन्होंने 1988 में दो और लोगों के साथ मिलकर इस कंपनी की नींव रखी थी। अभी वे माइक्रोन के सीईओ हैं। दिल्ली से स्कूलिंग और कॉलेज बिट्स, पिलानी राजस्थान से किया। 1980 में बार्कले से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और कम्प्यूटर साइंसेज में मास्टर्स की डिग्री की।

के CEO वि‍क्रम पंडि‍त
विक्रम पंडित भारतीय-अमेरिकी बैंकर हैं। नागपुर में जन्मे और कोलंबिया यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएट विक्रम पंडित दिसंबर, 2007 से 2012 तक‍ सिटीग्रुप के सीईओ पद पर थे। अब वे ओरोजेन ग्रुप के चेयरमेन और CEO हैं।

Palo Alto Networks के CEO निकेश अरोड़ा
निकेश अरोड़ा साइबर सिक्युरिटी कंपनी पालो अल्टो नेटवर्क के CEO हैं। निकेश अरोड़ा यूपी के गाजियाबाद के रहने वाले हैं। उनका जन्म 9 फरवरी 1968 को हुआ। पढ़ाई दिल्ली के एयरफोर्स स्कूल से ही हुई। इसके बाद 1989 में उन्होंने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय IIT से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बीटेक की डिग्री ली।

की CEO, रेवथी अद्वैत
रेवथी अद्वैत को साल 2019 में Flex का सीईओ बनाया गया था। इन्होंने अपनी बैचलर डिग्री बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, पिलानी से किया है। एमबीए थर्डरबर्ड स्कूल ऑफ ग्लोबल मैनेजमेंट से किया है।

की CEO जयश्री उल्लाल
जयश्री उल्लाल साल 2008 में कंपनी की सीईओ बनीं। इन्हीं के नेतृत्व में न्यूयार्क स्टॉक एक्सचेंज में Arista अपना IPO लेकर आया था।

अंजली सूद Vimeo की CEO
अंजली सूद साल 2017 में वीडियो प्लेटफॉर्म Vimeo की सीईओ बनीं। इससे पहले सूद Amazon और Time Warner में काम कर चुकी हैं। इन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एमबीए किया है।

के CEO अरमान भूटानी
अरमान भूटानी को GoDaddy के सीईओ पद की जिम्मेदारी साल 2019 में मिली थी। इन्होंने अपनी बैचलर की डिग्री दिल्ली यूनिवर्सिटी से हासिल की। जबकि एमबीए Lancaster यूनिवर्सिटी से किया।



और भी पढ़ें :