पाल रखे हैं 80000 बिच्छू और सांप, शौक ने बनाया देश का टॉप करोड़पति आदमी

Motivational Story
पुनः संशोधित शनिवार, 6 फ़रवरी 2021 (11:04 IST)
जानिए एक ऐसे आदमी के बारे में जो अपने अजीबोगरीब शौक के चलते करोड़पति बन गया है। इसका क्या शौक है यह जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। उसके इस खतरनाक शौक के चलते अब वह खुद के देश की अमीरों की टॉप लिस्ट में शामिल हो चुका है। है ना हैरान करने वाली बात। तो आओ जानते हैं कि कौन है यह आदमी, कहां रहता है और क्या है इसका खतरनाक और अजीब शौक।

यह आदमी, की राजधानी काहिरा में रहता है और इसका नाम है मोहम्मद हम्दी बोष्टा। इस शख्‍स को बिच्छू और सांप पालने का शौक है। अब आप सोच रहे होंगे कि यह बिच्छु और सांप पालकर कैसे करोड़पति बन बैठा, तो चलिये यह भी जान लेते हैं। लोग फल, सब्जी, अनाज या अन्य तरह की कोई ग्रॉसरी बेचने का कार्य करते हैं परंतु यह आदमी सांप और बिच्छु के जहर को बेचने का कार्य करता है।
आपको जानकर यह हैरानी होगी कि इस आदमी ने लगभग 80 हजार बिच्छू और सांप पाल रखे हैं। उसके इस खतरानाक शौक ने उसे करोड़पति बना दिया है। दरअसल, वह इन सभी का कारोबार करता है। मिस्र की राजधानी काहिरा के रहने वाले मोहम्मद हम्दी बोष्टा नम कंपनी के मालिक हैं। जहर के कारोबार के शौकीन हम्दी इतनी महंगी कीमत पर जहर बेचता है कि जिसे सुनकर एक बार आप दंग रह जाएंगे। आखिर कैसे शुरु किया हम्दी ने यह कारोबार यह भी एक रोचक कहानी है।
दरअसल, मोहम्मद हम्दी बोष्टा पुरातत्व में ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहे थे। इसी दौरान हम्दी को मिस्र के विशाल रेगिस्तान और तटों में बिच्छू के शिकार का शौक चढ़ा। शौक इतना गहरा हो गया कि उन्होंने पढ़ाई को बीच में छोड़ अपने शौक को पूरा करने का फैसला किया। आज वह खतरनाक जहर का व्यापार करके मिस्र के सबसे अमीर आदमी में से एक बन गया है। आओ अब जानते हैं कि हम्दी की कंपनी किस तरह सांप-बिच्छु का जहर निकालती और कितनी कीमत में इसे बाजार में बेचती है।
मोहम्मद हम्दी बोष्टा ने अलग-अलग प्रजाति के 80,000 हजार से भी ज्यादा बिच्छू और सांप पाल रखे हैं। हम्दी इन सांप और बिच्छुओं से जहर निकालकर फॉर्मा कंपनियों को बेचते हैं। हम्दी की कंपनी बिच्छुओं का जहर निकालने के लिए यूवी लाइट का प्रयोग करती है। इसकी मदद से थोड़ा-थोड़ा इलेक्ट्रिक शॉक दिया जाता है। शॉक लगते ही बिच्छुओं का जहर बाहर आने लगता है और फिर उसे स्टोर कर लिया जाता है।

मोहम्मद हम्दी बोष्टा यूरोप और अमेरिका में बिच्छुओं के जहर को सप्लाई करते हैं। यहां की फॉर्मा कंपनियां इसका इस्तेमाल एंटीवेनम डोज और हाइपरटेंशन जैसी तमाम बीमारियों की दवाइयां बनाने में करती हैं। आप जानकर दंग रह जाएंगे कि बिच्छू का एक ग्राम जहर बेचने पर उन्हें 10 हजार यूएस डॉलर यानी करीब 7 लाख रुपए मिलते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, बिच्छू के एक ग्राम जहर से करीब 20,000 से 50,000 तक एंटीवेनोम डोज बनाए जा सकते हैं और यही वजह है कि हम्दी का कारोबार बढ़ता गया।



और भी पढ़ें :