0

पर्यावरण दिवस पर वामा साहित्य मंच का अनूठा आयोजन : नदियों को सहेजें, नदियां हैं अनमोल

सोमवार,जून 7, 2021
वामा साहित्य मंच
0
1
राष्ट्रीय हिंदी पत्रकारिता दिवस हर साल 30 मई को मनाया जाता है। इस दिन को हर साल इसलिए मनाया जाता है क्योंकि आज के दिन हिंदी भाषा में ‘‘उदंत मार्तदण्ड’’ के नाम से पहला समाचार पत्र 1826 में निकाला गया था। पंडित जुगल किशोर शुक्ल ने इस अखबार की शुरुआत ...
1
2
हिन्दी पत्रकारिता दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। हिन्दी के पहले अखबार के प्रकाशन को 193 वर्ष हो गए हैं।
2
3
अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस हर साल 15 मई को मनाया जाता है। हर साल विश्व परिवार दिवस की संयुक्त राष्ट्र द्वारा एक थीम तैयार की जाती है। इस बार कोरोना काल को
3
4
भारतीय राष्ट्रगान के रचयिता रवींद्रनाथ टैगोर का जन्म 7 मई 1861 को जोड़ासांको में हुआ था।
4
4
5
वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम डे 2021 यानि अंतर्राष्ट्रीय प्रेस स्वतंत्रता दिवस हर साल 3 मई को पूरी दुनिया में मनाया जाता है। प्रेस को लोकतंत्र का स्तंभ भी कहा जाता है। आज के बदलते दौर में सरकार अब सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय है लेकिन खिलाफ जाने पर आपकी ...
5
6
यूनेस्को द्वारा 1997 से हर साल 3 मई को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस पर गिलेरमो कानो वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम प्राइज भी दिया जाता है। यह पुरस्कार उस व्यक्ति अथवा संस्थान को दिया जाता है जिसने प्रेस की स्वतंत्रता के लिए उल्लेखनीय कार्य किया हो।
6
7
29 अप्रैल को हर वर्ष अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस मनाया जाता है। जिसकी पहल सबसे पहले महान नर्तक जीन जॉर्ज नावेरे ने की थी
7
8
इंदौर : नगर की साहित्यिक संस्था क्षितिज के द्वारा एक आभासी लघुकथा गोष्ठी आयोजित की गई। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ साहित्यकार ज्योति जैन ने कहा कि ,"आज लघुकथा हिंदी की सबसे चर्चित और विवादास्पद साहित्यिक विधा है।
8
8
9
विश्व पुस्तक दिवस हर साल 23 अप्रैल को मनाया जाता है। यह इसलिए मनाया जाता है क्योंकि इस दिन कुछ प्रसिद्ध लेखकों का निधन भी हुआ था तो किसी का जन्म भी हुआ था।
9
10
लेकिन इतना कुछ देने के बाद भी आप इनसे ज्ञान लेकर बाद में कहीं भी पटक देते हैं। आइए जानते हैं अगर आपको किताबों से प्‍यार है तो आपको उनके साथ क्‍या और कैसा व्‍यवहार करना चाहिए।
10
11
दुनियाभर में साल में दो दिन पृथ्वी दिवस मनाया जाता है (21 मार्च और 22 अप्रैल) लेकिन, 1970 से हर साल 22 अप्रैल को मनाए जाने वाले विश्व पृथ्वी दिवस का सामाजिक तथा राजनीतिक महत्व है।
11
12
कितनी बातें,कितने सम्वाद, कितने शब्द और कितने विचारों के साथ आज उनके चाहने वाले उन्हें याद कर रहे हैं...आज साहित्य का दमदार वनराज खामोश हो गया है...पौराणिक चरित्रों को अपनी सम्पूर्ण कुशलता से गुंथ कर वे महाप्रयाण कर गए हैं लेकिन कहाँ जा सकेंगे अपने ...
12
13
यह नया इम्प्रिंट प्रतिलिपि के प्रतिभाशाली लेखकों की किताबों का प्रकाशन मुद्रित और ई- बुक दोनों स्वरूपों में करेगा। फ़िक्शन श्रेणी की ये किताबें मुख्य रूप से लघु कथाएं और उपन्यास होंगी। प्रतिलिपि डॉटकॉम एक लोकप्रिय फ्री टू रीड डिजिटल प्लेटफार्म है।
13
14
मीना कुमारी हिन्दी सिनेमा की बेहतरीन एक्ट्रैस में शुमार थीं। आज भी उनका नाम बड़ी अदब से लिया जाता है। छोटी उम्र से ही उन्होंने परेशानियों को झेलना सीख
14
15
साहित्य के क्षेत्र में एक चमचमाता सितारा बड़ी तेजी से लोकप्रियता के बुलंदी की ओर अग्रसर था। उस का नाम था 'विलियम शेक्सपीयर'। सन् 1599 में विलियम शेक्सपीयर
15
16
महादेवी वर्मा की महज नौ साल की उम्र में शादी हो गई थी, लेकिन वे अपने माता-पिता के साथ ही रहीं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय से संस्कृत में मास्टर्स डिग्री हासिल करने के दौरान महादेवी वर्मा की कविताएं लोगों के बीच आने लगीं। पहले वे अपने लेखन को छुपाकर ही ...
16
17
होली के दिन 26 मार्च 1907 को उत्तर प्रदेश क्र फर्रूखाबाद में जन्मी महादेवी वर्मा को आधुनिक काल की मीराबाई कहा जाता है।
17
18
बेगम समरू का सच’ के लेखक राजगोपाल सिंह वर्मा ने अपनी इस किताब के बारे में बताया कि फरजाना ऊर्फ बेगम समरू मुगल और ईस्‍ट इंडि‍या काल में मेरठ के पास सरधना की जागीरदारी रही हैं, जिन्‍होंने 58 साल तक एक बड़े भू-भाग पर शासन किया।
18
19
महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय (वर्धा, महाराष्ट्र) के कुलपति प्रो. रजनीश कुमार शुक्ल ने कहा कि युवा इतिहासकार भारत का इतिहास लिख सकते हैं। भारत का इतिहास उत्तान पाद, राम कृष्ण, समुद्र गुप्त, चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, राम- कृष्ण ...
19