1. मनोरंजन
  2. फनी जोक्स
  3. चुटकुले
  4. political joke
Written By

जेल बनाम स्कूल : नेताओं का यह जोक करारा है

एक बार एक प्रदेश के मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता साथ साथ दौरे पर निकले... 
 
रास्ते में एक जेल पड़ी.. 
मुख्यमंत्री ने उसका मुआयना किया और जेलर से पूछा:- कितनी ग्रांट चाहिए...
 
जेलर:- कुछ विशेष नहीं सब ठीक चल रहा है...! 
मुख्यमंत्री:- फिर भी...
जेलर:- आप देना ही चाहते हैं तो 
5 लाख रुपया दे दीजिए.....! पीए ने नोट किया.... 
आगे बढ़े तो एक स्कूल पड़ा..
वहां जा कर प्रिन्सिपल से भी वही बात पूछी.. 
प्रिन्सिपल लगे रोने और कहा:- सर ना तो स्टाफ़ है,
 विद्यालय भवन भी जर्जर है, ना फ़र्नीचर है और ना लैब.............
मुख्यमंत्री ने डांटा और बोले:-
 रोओ मत, बताओ कितनी ग्रांट चाहिए.....प्रिन्सिपल:- कम से कम 50 लाख.... 
पीए ने नोट किया.... 
दोनों राजधानी वापस आ गए...
अगले दिन मुख्यमंत्री ने जेल को 
50 लाख और स्कूल को 
5 लाख का फंड जारी कर दिया......
इस पर विपक्ष के नेता ने नाराज़ होते हुए कहा:-
ये क्या आपने तो उलटा कर दिया.....तब मुख्यमंत्री ने कहा:-
अगर तुम्हारे पास इतनी ही अक़्ल होती तो तुम आज मेरी कुर्सी पर होते....!
विपक्ष नेता:- मतलब.....
मुख्यमंत्री ने कहा:- स्कूल ना तो हमें जाना है ना तुम्हें लेकिन...... 
जेल एक ना एक दिन हमें भी जाना है
 और तुम्हें भी..
ये भी पढ़ें
घर में कोई नहीं हैं मैं अकेली हूं : लोटपोट कर देगा चुटकुला