तुम्हारे मुंह कौन लगे? : यह जोक थका देगा हंसा-हंसा कर



तुम दिन को अगर रात कहो रात कहेंगे...


इस गीत में कवि ये संदेश दे रहा है कि...

हे प्रिये...


तुम्हारे मुंह कौन लगे?



और भी पढ़ें :