कोरोना से क्यों बढ़ रहा है डायबिटीज और ब्लड प्रेशर का खतरा

COVID19
Last Updated: मंगलवार, 6 जुलाई 2021 (18:41 IST)
हमें फॉलो करें
की दूसरी लहर का प्रकोप बहुत हद तक कम हो गया है लेकिन डेल्टा प्लस वेरिएंट ने दस्तक देना शुरू कर दिया है। खैर, कोरोना से ठीक हुए मरीजों में अलग - अलग किस्म की बीमारियां सामने आ रही है। लेकिन सबसे अधिक डायबिटीज और के मरीज सामने आए हैं। कोविड के इलाज के दौरान स्टेरॉयड का इस्तेमाल सबसे अधिक किया गया है। ताकि मरीज ठीक हो सके। जी हां, जिससे कई लोग ठीक भी हुए। हालांकि ठीक होने के बाद अधिक केयर करना बहुत जरूरी हो गया है।



क्या डायबिटीज और ब्लड प्रेशर होने पर वापस ठीक हो सकते हैं? इसे लेकर वेबदुनिया ने चेस्ट स्पेशलिस्ट डॉ रवि दोसी से खास चर्चा की तो उन्होंने बताया कि, ‘हम फिर से ठीक हो सकते हैं,डायबिटीज से ठीक होने के लिए आपको सही डाइट लेने की जरूरत है और इंसुलिन। वहीं हाइपरटेंशन होने की मुख्य वजह रही है

शारीरिक
और मानसिक तनाव होना। इससे बचाव के लिए अपनी डाइट में सोडियम की मात्रा कम कर दें, दिमाग को शांत रखें, मेडिटेशन करें, तनाव को कम करें। तो आप इस बीमारी से उभर सकते हैं।’

की दूसरी लहर के दौरान कई सारे ऐसे मरीज रहे हैं जिन्हें डायबिटीज नहीं थी, लेकिन स्टेराॅयड की अधिक खुराक देने से यह बीमारी हो गई। क्योंकि कोविड
शुगर
कंट्रोल के बैलेंस को बिगाड़ता है। अगर आप स्टेरॉयड का डोज ले रहे हैं तो डॉक्टर से संपर्क करके ही इसका डोज कम, ज्यादा या बंद करें। स्टेरॉयड की गलत खुराक से समस्या हो सकती है।



Disclaimer: चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो,आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।



और भी पढ़ें :