झूठ से नफरत है मोदी को

अहमदाबाद (वेबदुनिया न्यूज)| WD|
गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को झूठ से काफी नफरत है। उनका कहना है कि मैं सब-कुछ सह सकता हूँ लेकिन झूठ नहीं। मैं नहीं चाहता कि दुनिया मुझे याद रखे। मुझे एकांत पसंद है और मैं चाहता हूँ कि किसी पर्वत के शिखर पर पहुँचकर खुले आसमान को देखूँ।

गुजरात विधानसभा चुनाव के दरमियान स्टार न्यूज ने मोदी से विशेष बात की थी और ‍इसी बा‍तचीत में उन्होंने कई अनछुए पहलुओं को सार्वजनिक किया, जिनसे आम जनता अनभिज्ञ है।

मोदी ने कहा कि मुझे भीड़ पसंद नहीं है। मैं अकेले रहना ज्यादा पसंद करता हूँ। मुझे अपना काम पागलपन की हद तक करने की आदत है। कई बार मैं ट्रेन या बस से उतरता हूँ तो दिमाग में अपने काम का जुनून इस कदर हावी रहता है कि आसपास के लोग दुआ-सलाम करते हैं तो मैं वह भी नहीं देख पाता हूँ।
हालाँकि कई बार मुझे लगता है कि यह सब गलत है। मुझे अपनी इस आदत में सुधार करना चाहिए। मुझमें कई कमियाँ हैं और मैं अपने दोस्तों से यही कहता हूँ कि वे मेरी बुरी आदतों और कार्यों से मुझे अवगत कराएँ।

मोदी के मुताबिक शिक्षा पूरी करने के बाद मैं 2-3 साल के लिए हिमालय की ओर चला गया था। वहाँ अकेले रहहकर काफी कुछ सीखा। यही कारण है कि मुझे पर्वत काफी आकर्षित करते हैं। गुजरात में यह मौका नहीं मिलता कि मैं किसी पर्वत के शिखर पर पहुँचकर कुछ बातें अपने आपसे करूँ।
वैसे मुझे सुबह उठकर कुछ समय कम्प्यूटर पर बिताना अच्छा लगता है। मैं खुद को फिट रखने के लिए रोजाना योग करता हूँ। मेरे लिए गुजरात आत्मा है और मेरा भारत परमात्मा।



और भी पढ़ें :