दम तोड़ते ‘अस्‍पताल…’ क्‍या ‘होटल्‍स स्‍टे पैकेज’ बनेंगे ‘इलाज का आधार’?

hotels packages covid hotel stay
  • अस्‍पताल और होटल्‍स ने शुरू किए कोविड आइसोलेशन पैकेज
  • 500 रुपए से लेकर 8 हजार और इससे ज्‍यादा तक के होम एंड होटल स्‍टे पैकेज
  • इंदौर से लेकर दिल्‍ली-एनसीआर तक कई होटल्‍स और अस्‍पतालों ने शुरू की आइसोलेशन सुविधाएं
  • कोविड ने बदल दिया इलाज का फार्मूला
कोरोना संक्रमण ने स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं चरमरा दी हैं। अस्‍पतालों और पलंग का अभाव, डॉक्‍टरों, नर्स और यहां तक की ऑक्‍सीजन की कमी ने इस त्रासदी को और ज्‍यादा भयावह बना डाला है। अस्‍पतालों में कतारें लगी हैं, दवाइयों और इंजेक्‍शन के लिए मारामारी है।
ऐसे में अब बड़े और नामी निजी अस्‍पतालों ने कोविड के मरीजों के लिए होम केयर आइसोलेशन पैकेज के साथ ही होटल्‍स में आइसोलेशन और स्‍टे की लक्‍जरी सुविधाएं शुरू की हैं। अस्‍पतालों और होटल्‍स के इस साझा पैकेजेस में 500 रुपए प्रतिदिन वाले होम स्‍टे से लेकर 3500 से 8 हजार तक वाले सिंगल, डबल और सुइट रूम्‍स की सुविधाएं दी जा रही हैं।

हालांकि कोविड संक्रमण में जहां आर्थि‍क रूप से अमीर और रसूखदार लोगों की भी कमर तोड़ दी है, ऐसे में गरीब लोग जो आमतौर पर अस्‍पताल का खर्च ही नहीं उठा सकते उनके लिए इस तरह के लक्‍जरी पैकेजेस कितने कारगर और अफोर्डेबल होंगे, इस बारे में कहना मुश्‍किल है।

मेदांता कोविड केयर पैकेज
माइल्‍ड और सिम्‍पटोमेट‍िक कोविड मरीजों के लिए पांच दिनों तक स्‍टे करने की सुविधा।

क्‍या है नियम?
  • आरटी पीसीआर पॉजिट‍िव होना चाहिए।
  • ऑक्‍सीजन की रिक्‍वायरमेंट नहीं होना चाहिए।
  • हमारे फ‍िजिशि‍यन और डॉक्‍टर सलाह देंगे तभी भर्ती करेंगे।
  • मेड‍िक्‍लेम लागू नहीं होगा।
  • रुम, नर्सिंग केयर और डॉक्‍टर वीजिट रहेगा
डॉक्‍टर कुणाल यादव ने इस बारे में बताया कि इन नियमों के साथ अगर कोई मरीज आता है तो उसे उसकी चाही गई सुविधा के साथ एडमिशन दिया जाता है। उन्‍होंने बताया कि इसके अलावा मेड‍िकेशन (दवाइयों का खर्च) चार्जेबल रहेगा। इसके साथ ही अतिरिक्‍त जांच रिपोर्ट, अतिरिक्‍त डॉक्‍टर विजिट के लिए भी शुल्‍क लगेगा।

होटल के जो रूम हैं वो मरीज अपनी सुव‍िधा और क्षमता के अनुसार चयन कर सकता है। मरीज होटल के रूम के लिए जो भी कमरा चुनता है उसे उसके हिसाब से शुल्‍क देना होगा। मसलन अगर वो सिंगल ड‍िलक्‍स, डबल ड‍िलक्‍स या सुइट का चयन करता है तो उसे निर्धारित शुल्‍क देना होगा। जहां तक मेड‍िक्‍लेम का सवाल है तो डॉक्‍टर कुणाल ने बताया कि अभी मेड‍िक्‍लेम सुविधा नहीं दी जा रही है, लेकिन इसे लेकर कलेक्‍टर से चर्चा चल रही है। अगर कोई बदलाव होता है तो उसे लागू किया जाएगा।

सीएचएल अस्‍पताल

कोविड होम केयर आइसोलेशन पैकेज

क्‍या है पैकेज में?
  • 500 रुपए प्रतिदिन, 10 दिन के लिए।
  • तीसरे और छठवें दिन मरीज को देखने के लिए दो डॉक्‍टर विजिट करेंगे।
  • अगर मरीज डॉक्‍टर की अति‍रिक्‍त वि‍जिट चाहता है तो उसे 500 रुपए अतिरिक्‍त देना होंगे।
  • इन 10 दिनों के दौरान दो बार डॉक्‍टर्स वीडि‍यो के मार्फत परामर्श करेंगे।
  • नर्सिंग केयर दी जाएगी।
  • दवाइयों के खर्च पर 10 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।
  • दवाइयों की निशुल्‍क होम डि‍लिवरी की जाएगी।
कैसे मि‍लेगी सुविधाएं?
सीएचएल में दिए गए नंबरों पर किसी से संपर्क नहीं हो सका है, जारी किए गए पोस्‍टर के आधार पर जानकारी है। लगातार कॉल करने के बाद भी किसी ने फोन नहीं उठाया तो वहीं एक नंबर लगातार व्‍यस्‍त आया, ऐसे में इस तरह की सुविधाओं के लिए लोग अस्‍पतालों से कैसे संपर्क कर सकेंगे यह भी एक बड़ा सवाल है।

पैराडाइज हॉलिडे कोविड आइसोलेशन होटल्‍स
पैराडाइज हॉलिडे के संचालक शरद वर्मा ने बताया कि हमने पूरे देश में इस तरह की ऑनलाइन सुविधाओं की शुरुआत की है। हम सिर्फ लोगों को एकोमोडेशन प्रोवाइड कर रहे हैं। इस तर‍ह के स्‍टे पैकेज हमने इंदौर के साथ ही मुंबई, दिल्‍ली और चैन्‍नई में शुरू किए हैं। उन्‍होंने बताया कि इसका उदेश्‍य यह है कि जिन लोगों के घर छोटे हैं और वे एक संक्रमित व्‍यक्‍ति के तौर पर घर में स्‍टे नहीं कर सकते, जिनके पास कमरे नहीं हैं या जिनके यहां रिश्‍तेदारों का आना-जाना लगा रहता है और इसी के साथ संक्रमण का खतरा बना रहता है, ऐसे मरीजों के लिए हॉलिडे कंपनी अस्‍पतालों के साथ मिलकर कोविड आइसोलेशन या स्‍टे सुविधा दे रहा है।

इसमें कम से कम 2500 से लेकर 3 हजार प्रतिदिन का खर्च है। इसके बाद यह खर्च इस बात पर निर्भर करता है कि मरीज किस तरह की सुविधा अपने लिए ले रहा है। शरद ने बताया कि दो समय का भोजन हम देते हैं, इसके बाद डॉक्‍टर, दवाइयां, विजिट और अलग अलग तरह की जांचों का खर्च अस्‍पताल पर निर्भर करता है।

2020 में दिल्‍ली-एनसीआर में शुरू हुआ था कॉन्‍सेप्‍ट
होटल आइसोलेशन और स्‍टे का यह कॉन्‍सेप्‍ट हालांकि पिछले साल से शुरू हो चुका है। 2020 में दिल्‍ली-एनसीआर के कई बड़े प्राइवेट अस्पताल भी कोरोना मरीजों के लिए होम केयर स्कीम ले आए थे। मेदान्ता मेडिसिटी, फोर्टिस और मैक्स हेल्थकेयर ने होम केयर पैकेज शुरू किए थे। इसमें 14-17 दिन तक स्‍टे के साथ अलग अलग पैकेज के चार्ज तय किए गए थे।

इसमें इस तरह के पैकेज दिए गए थे…
  • मैक्स हैल्थकेयर में 7 हज़ार रुपये का पैकेज
  • फोर्टिस हेल्थकेयर में 6 हज़ार में 17 दिन का पैकेज
  • मेदान्ता मेडिसिटी में 4900 से 21900 तक का पैकेज



और भी पढ़ें :