Vaccination Ground Report : भोपाल में स्वास्थ्य मंत्री,ग्वालियर में सांसद और जबलपुर में संतों ने लगवाई वैक्सीन

Author विकास सिंह| Last Updated: सोमवार, 1 मार्च 2021 (21:11 IST)
भोपाल। के दूसरे चरण के पहले दिन आज पहले मध्यप्रदेश के 51 जिलों के 186 वैक्सीनेशन साइट पर 60 साल से अधिक उम्र के और 45 साल से अधिक गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों का टीकाकरण हो रहा है। प्रदेश के चार बड़े महानगरों में ग्राउंड जीरो पर पहले दिन वैक्सीनेशन को लेकर कैसा माहौल रहा इसको जानने के लिए पढ़िए यें पूरी रिपोर्ट।


भोपाल में स्वास्थ्य मंत्री ने लगवाई वैक्सीन-राजधानी भोपाल में कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण के पहले दिन सरकार के स्वास्थ्य सेवा से जुड़े दोनों मंत्री ग्राउंड पर नजर आए। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी ने जेपी अस्पताल पहुंचकर कोरोना वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगवाने के बाद स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने वैक्सीन को पूरी तरह सुरक्षित बताते हुए लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आगे आने की अपील की।

वहीं चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सांरग गांधी मेडिकल कॉलेज में बने वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचकर अभियान का जायजा लिया। इस मौके पर मंत्री सारंग ने व्हीलचेयर पर आए राजधानी के वरिष्ठ नागरिक डॉ. एन.पी. मिश्रा को स्वयं ले जाकर उनका वैक्सीनेशन करवाया। वैक्सीनेशन सेंटर पर मौजूद सिस्टर नलिनी ने एक-एक कर वरिष्ठ नागरिकों का वैक्सीनेशन किया।
ग्वालियर में सांसद ने लगवाई वैक्सीन-वहीं ग्वालियर में जयारोग्य अस्पताल पहुंचकर स्थानीय सांसद विवेक शेजवलकर ने वैक्सीन का पहला डोज लगवाया। वैक्सीनेशन के बाद सांसद ने सभी से अपील की वह गाइडलाइंस का पालन करते हुए जरुर वैक्सीन लगवाए। सांसद के वैक्सीनेशन के लिए देरी से आने पर वैक्सीनेशन साइट पर थोड़ी गहमागहमी भी देखने को मिली।

जबलपुर में संतों ने लगवाई वैक्सीन-जबलपुर में दूसरे चरण के वैक्सीनेशन के पहले दिन संतों ने जिला अस्पताल विक्टोरिया में कोरोना का टीका लगवाकर लोगों को एक संदेश देने की कोशिश की। इस अवसर पर धर्मगुरुओं ने टीके को पूरी तरह सुरक्षित बताते हुये कहा कि कोरोना की महामारी को खत्म करने का यही एकमात्र उपचार है ।

धर्मगुरुओं ने भ्रम और अफवाहों न पड़कर अनिवार्य रूप से टीका लगवाने की अपील सभी नागरिकों से की है। जिला अस्पताल में कोरोना का टीका लगाने वाले धर्मगुरुओं में जगद्गुरु डॉ श्याम देवाचार्य जी महाराज, महामंडलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानन्द गिरी जी महाराज एवं साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी शामिल हैं।

इंदौर में भी शुरु हुआ वैक्सीनेशन-इंदौर में एमवाय हास्पिटल में रवि कुमार जैन को पहला टीका लगाया गया। जैन पेशे से दंत चिकित्सक हैं। जैन ने टीकाकरण के बाद कहा कि मैं पूरी तरह ठीक महसूस कर रहा हूं। मैं अपनी पत्नी को टीका लगवाने के लिए सोमवार को ही अस्पताल लेकर आ रहा हूं। कोविड-19 के टीके को लेकर फैली भ्रांतियों को सिरे से खारिज करते हुए जैन ने कहा कि बतौर जागरूक नागरिक हमें टीकाकरण को लेकर सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए और सभी पात्र लोगों को टीका लगवाना चाहिए।



और भी पढ़ें :