ग्वालियर में जिंदगी के टीके पर थिरके डॉक्टर, टीकमगढ़ में अफजल खान को लगा पहला टीका, मध्यप्रदेश के 10 शहरों की Ground Report

Author विकास सिंह| Last Updated: शनिवार, 16 जनवरी 2021 (17:16 IST)
भोपाल। पूरे देश के साथ आज मध्यप्रदेश में कोरोना वैक्सीन की टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ हो गया। प्रदेश के सभी जिलों के 150 वैक्सीनेशन सेंटर पर आज हेल्थ वर्कर्र को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। नौ महीने तक कोरोना महामारी से जूझने वाले स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी और डॉक्टर आज खुशी से झूम उठे तो पहले कोरोना वैक्सीन की अफवाह को खत्म करे लिए हर जिले के बड़े डॉक्टरों ने आगे बढ़कर वैक्सीन लगवाई। 'वेबदुनिया' ने मध्यप्रदेश के 10 बड़े शहरों का जायजा लेकर कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम के पहले दिन की जमीनी हकीकत का जायजा लिया।


1-भोपाल-भोपाल के हमीदिया अस्पताल के वार्ड बॉय संजय यादव को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में पहली कोरोना वैक्सीन लगाई गई। मुख्यमंत्री ने पहली वार्ड बॉय संजय यादव से बात कर उनको बधाई भी दी।भोपाल के जेपी अस्पताल में वैक्सीनेशन की शुरुआत स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी ने की। यहां पर सबसे पहला टीका अस्पताल के गार्ड हरिदेव यादव को लगाया। चौंकाने वाली बात यह है कि पहले दिन ही स्वास्थ्य मंत्री के इंतजार में टीकाकरण डेढ़ घंटे देरी से शुरू हुआ।
2-इंदौर-इंदौर में पहला टीका आशा पवार नामक महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता को लगाया गया है। पहला टीका लगवाने वाली आशा पवार ने बताया कि टीके के प्रभावों को लेकर उनके मन में कोई डर नहीं है और उन्हें पूरी उम्मीद है कि यह टीका महामारी से लोगों की जान बचाने में मददगार साबित होगा। टीका लगवाने के बाद पवार ने विक्टरी साइन दिखाते हुए खुशी जाहिर की।

3-जबलपुर-जबलपुर में वैक्सीनेशन के पहले चरण का पहला टीका विक्टोरिया हॉस्पिटल के सफाई कर्मी बैसाखू पनगरहा को लगा। वहीं दूसरा टीका सुपरवाइजर रतनलाल नागेश और तीसरा टीका डॉक्टर राजेश धीरावाणी को लगा गया है। टीका लगवाने के बाद सफाई कर्मी बैसाखू ने कहा कि उनको पहला टीका लगने की बहुत खुशी महसूस हो रही है।
4-ग्वालियर-ग्वालियर में पहला टीका सफाई कर्मी रघुवीर वाल्मिकि को लगाया गया। कोरोना वैक्सीन आने की खुशी में ग्वालियर में टीकाकरण केंद्र पर डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी अपने को रोक नहीं सके और डोल की धुन पर जमकर डांस किया। जिले में कोरोना का दूसरा टीका जीआर मेडिकल कॉलेज के डीन एसएसन आयंगर और तीसरा टीका जेएएच अस्पताल के अधीक्षक आरएस धाकड़ को लगाया गया।
5-दतिया-दतिया जिला अस्पताल में कार्यरत सफाई कर्मी पवन वाल्मीकि को पहला टीका लगाया गया। इसके साथ अस्पताल के डेटा एंट्री ऑपरेटर
शिवकुमार दुबे को भी वैक्सीन लगाई गई। जिला अस्पताल ‌में वैक्सीन का जायजा लेने प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा पहुंचे उन्होंने सभी प्रदेशवासियों से अपील कि टीकाकरण के इस ऐतिहासिक महाभियान को सफल बनाएं।
6-टीकमगढ़-टीकमगढ़ जिले में पहला टीका फाइलेरिया विभाग के सुपीरियर फील्ड वर्कर अफजल खान को लगाया गया। अफजल खान ने आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का धन्यवाद दिया। अफजल खान ने कहा कि उनको कोरोना के टीके को लेकर न कोई भ्रम है और न कोई डर।
7-रीवा-वैक्सीनेशन के पहले रीवा जिला अस्पताल में उपेंद्र भंडारी को पहला टीका लगाया गया। टीका लगवाने के बाद उपेंद्र भंडारी ने कहा कि उनकी ड्यटी कोविड सेंटर में लगी है इसलिए वह कोरोना का टीका लगवा रहे है।

8-रायसेन–रायसेन जिले में जिला अस्पताल में तैनात सफाई कर्मी अशोक कुमार को पहली वैक्सीन लगाई गई है। वहीं पहले दिन रायसेन सीएमएचओ डॉक्टर दिनेश खत्री को भी वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगवाने के बाद उन्होंने कहा कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और सभी को वैक्सीनेशन के लिए आगे आना चाहिए।



9-उज्जैन-जिला अस्पताल में सफाई कर्मी कैलाश सिसौदिया को पहला टीका लगाया गया। कैलाश सिसौदिया ने कहा कि वह अपने को खुशनसीब मानते हैं कि वह कोरोनाकाल में ड्यूटी करते हुए भी संक्रमण की चपेट में नहीं आए।
10-कटनी-कटनी में सीएमएचओ कार्यलाय में काम करने वाले सफाईकर्मी संजू वाल्मिकी को पहला टीका लगाया गया। टीका लगने के बाद संजू ने कहा कि सफाई कर्मियों को टीका लगने से उनको बहुत खुशी महसूस हो रही है।







और भी पढ़ें :