कोरोना के मद्देनजर अमरिंदर की CBSE बोर्ड परीक्षाएं टालने की मांग

Last Updated: बुधवार, 14 अप्रैल 2021 (14:17 IST)
चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री ने देशभर में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 10वीं और 12वीं कक्षा की सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं की है। सिंह ने केंद्रीय शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' से मौजूदा स्थिति का जिक्र करते हुए इस बात पर जोर दिया कि यह उचित होगा कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को तत्काल टालने का फैसला किया जाए।
ALSO READ:
अमरिंदर सिंह का बड़ा ऐलान- आंदोलन में मारे गए किसानों के परिजनों को देंगे सरकारी नौकरी

उन्होंने बुधवार को एक आधिकारिक बयान में कहा कि इससे केंद्र और राज्यों की सरकारें स्थिति सामान्य होने पर परीक्षा आयोजित करने के लिए बेहतर योजना बना पाएंगी। मंत्री से जल्द से जल्द दखल देने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री ने उल्लेख किया कि यह अनुमान लगा पाना मुश्किल है कि कोविड-19 के मामलों पर कब काबू पाया जा सकेगा और इसमें कब गिरावट दिखेगी।
उन्होंने कहा कि महामारी की दूसरी लहर में विभिन्न राज्यों की स्थिति अलग है। कुछ राज्यों में मामले पहले ही बढ़ने लगे हैं जबकि इनकी तुलना में कुछ राज्यों में मामले धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं। बढ़ते मामलों को देखते हुए सिंह ने कहा कि यह समझने वाली बात है कि देश के अधिकतर राज्यों में कोविड-19 के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है जिससे 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर छात्रों और अभिभावकों में आशंका और डर का माहौल है।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को पंजाब में भी विभिन्न वर्गों से राज्य बोर्ड के साथ सीबीएसई एवं आईसीएसई की बोर्ड परीक्षाएं टालने का अनुरोध मिला है। सीबीएसई की 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं 4 मई से 7 जून के बीच होने वाली हैं और 12वीं की परीक्षाएं 4 मई से 15 जून के बीच होने वाली हैं। पंजाब बोर्ड की परीक्षा सीबीएसई की परीक्षा के साथ ही होने वाली है। (भाषा)



और भी पढ़ें :