इंदौर में फिर 70 नए Corona मरीज मिले, मृतकों का आंकड़ा 300 के करीब, 6225 संक्रमित

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: मंगलवार, 21 जुलाई 2020 (01:34 IST)
इंदौर। सिर्फ ही नहीं बल्कि प्रदेश के उन सभी हिस्सों में और सख्ती की जाने की घोषणा हो चुकी है, जहां (Coronavirus) संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। प्रदेश में सबसे ज्यादा संवेदनशील जिला इंदौर ही है, जहां कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 6225 पर पहुंच गया है। सोमवार को 70 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। 4 नई मौतें हुई और कुल मृतक संख्या 299 पर पहुंच गई।
इंदौर जिला प्रशासन के कठोर निर्णयों से व्यापारी वर्ग परेशान है लेकिन सरकार को पैसे से कहीं अधिक चिंता लोगों की जान की है। यही कारण है कि वह एक दिन राइट और दूसरे दिन लेफ्ट की दुकाने चालू रखने के नियम को सख्ती से पालन करवा रही है।
व्यापारी वर्ग ने सुझाव दिया है कि दुकाने खोलने का वक्त बढ़ा दें और दोनों साइटों की दुकाने चालू रखी जाएं, जिससे भीड़ एक जगह इकठ्ठा न हो। इसी बीच सोमवार की देर शाम 2 दिन लॉकडाउन रखने का फरमान भोपाल से जारी हो गया।
जिला आपदा प्रबंधन समिति निर्णय लेगी कि इंदौर में रविवार के अलावा और कौनसे दिन दुकानों को बंद रखा जाए। इस निर्णय से मुसीबतों में और इजाफा होने वाला है, जिसका सीधा असर लोगों के काम धंधों पर पड़ेगा, जो पहले ही चौपट हो चुके हैं लेकिन कोरोना के संक्रमण रोकने और लोगों को मौत के आगोश में जाने से बचाने के लिए कुछ कठोर फैसले लेने होंगे।
मौतों का आंकड़ा 300 के करीब : इंदौर में पिछले 4 दिनों से 100 से ऊपर जो नए कोरोना केस आ रहे थे, वो सोमवार को थमे और केवल 70 नए मरीज सामने आए, जिन्हें मिलाकर कुल संक्रमितों का आंकड़ा 6225 हो गया है। कोरोना से जान गंवाने वाले मरीजों की संख्या भी 300 के करीब पहुंच गई है। सोमवार को 74 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। अब तक 4366 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं जबकि 1560 मरीजों का उपचार जारी है।
875 क्षेत्रों में फैला कोरोना : इंदौर में 346 नए क्षेत्रों में कोरोना का फैलना स्थानीय प्रशासन की नींद उड़ा रहा है। शहर के 875 क्षेत्रों में कोरोनावायरस अपने पैर पसार चुका है। शहर के अस्पताल मरीजों से पटे पड़े हैं। पिछले केवल 7 दिनों में अस्पतालों में कोरोना के दो गुने मरीज पहुंच चुके हैं।

हाथ ठेलों पर सख्ती : प्रशासन को लगता है कि संक्रमण फैलने में सड़कों पर हाथ ठेले पर सामान बेचने वाले अहम भूमिका निभा रहे हैं। इंदौर नगर निगम उपायुक्त देवेंद्र सिंह ने फरमान जारी कर दिया है कि सड़क पर अगर हाथ ठेलों पर व्यवसाय करने वाले नजर आए तो निगमकर्मी उनका ठेला और सामान जब्त कर लेंगे। ठेले वाले कॉलोनी में व्यवसाए कर सकते है, वह भी चलते फिरते ही।
कलेक्टर की अपील, घबराएं नहीं : जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरणों के दृष्टिगत व कोरोना संक्रमण के प्रसार की रोकथाम हेतु कलेक्टर मनीष सिंह ने जिले के नागरिकों से अपील की है कि वे घबराएं नहीं, आवश्यक सावधानी रखें एवं सतर्कता बरतें। नियमित अंतरालों में अपने हाथों को सेनेटाइज करें अथवा साबुन से धोएं, फिजिकल डिस्टेसिंग (2 गज की दूरी) का अनिवार्यत: पालन करें, अधिक भीड़भाड़ वाले स्थानों पर न जाएं। अनिवार्य रूप से फेस को कवर करें, आवश्यक होने पर ही अपने घरों से बाहर निकलें।



और भी पढ़ें :