मंगलवार, 7 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. कोरोना वायरस
  4. जनवरी 2022 में पूरे यूरोप में तबाही मचाएगा कोरोना का ओमिक्रॉन वैरिएंट! EU अध्यक्ष की चेतावनी
Written By
पुनः संशोधित गुरुवार, 16 दिसंबर 2021 (00:17 IST)

जनवरी 2022 में पूरे यूरोप में तबाही मचाएगा कोरोना का ओमिक्रॉन वैरिएंट! EU अध्यक्ष की चेतावनी

ब्रसेल्स। कोरोनावायरस का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन यूरोप (Coronavirus Omicron Variant) में तबाही मचा सकता है। ओमिक्रॉन वैरिएंट दुनिया के करीब 77 देशों में फैल चुका है। यूरोपीय आयोग (EU) की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयन ने बुधवार को कहा कि ओमीक्रोन मध्य जनवरी तक 27 देशों के संघ क्षेत्र में हावी हो सकता है। यूरोपीय देशों में इस बात की चिंता है कि संक्रमण में नाटकीय बढ़ोतरी से त्योहारी मौसम इस वर्ष भी फीका पड़ सकता है।
 
ईयू की कार्यकारी शाखा की प्रमुख ने कहा कि यूरोपीय संघ ओमिक्रॉन के खिलाफ लड़ाई के लिए पूरी तरह तैयार है और 66.6 प्रतिशत यूरोपीय आबादी को वायरस से लड़ने के लिए टीका लग चुका है।
 
वॉन डेर ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि ईयू के पास बीमारी से लड़ने के लिए ‘ताकत’और ‘साधन’ है। हालांकि उन्होंने दुख जताया कि ‘क्रिसमस पर एक बार फिर महामारी का असर’ दिखेगा।
 
उन्होंने कहा कि आपमें से कई की तरह मुझे दुख है कि एक बार फिर से क्रिसमस का त्योहार महामारी के कारण फीका रहेगा। नए संक्रमण में तेजी से बढ़ोतरी होने से यूरोप में और प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।
 
इटली ने इस हफ्ते निर्णय किया था कि टीकाकरण कराए हुए जो लोग देश में आ रहे हैं उन्हें भी नेगेटिव जांच रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य है जिससे इस बात की चिंता बढ़ गई कि ऐसे समय में जब यूरोपीय संघ के नागरिक अपने रिश्तेदारों एवं प्रियजनों से मुलाकात करने के लिए यात्रा करते हैं, वह सीमित हो जाएगा। पुर्तगाल ने भी 1 दिसंबर को इसी तरह के उपाय किए हैं जिसमें पुर्तगाल आने वाले सभी विमान यात्रियों के लिए आवश्यक रूप से निगेटिव जांच रिपोर्ट जरूरी है।
 
ब्रिटेन में कहर जारी : वॉन डेर ने कहा कि यूरोपीय संघ दोहरी चुनौती का सामना कर रहा है और डेल्टा स्वरूप के साथ ही ओमीक्रोन के मामलों में हाल के हफ्ते में तेजी से बढ़ोतरी हुई है।

ब्रसेल्स में यूरोपीय संघ के नेताओं की गुरुवार को होने वाली बैठक से पहले उन्होंने यूरोपीय सांसदों से कहा कि हम देख रहे हैं कि काफी संख्या में लोग बीमार पड़ रहे हैं, अस्पतालों में रोगियों की संख्या बढ़ रही है और दुर्भाग्य से मरने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। ब्रिटेन में ओमिक्रॉन के मामले हर दो से तीन दिनों में दोगुना हो रहे हैं और वॉन डेर ने कहा कि लगता है कि नया स्वरूप भी योरपीय संघ में इसी दर से बढ़ रहा है।
 
12 साल से कम उम्र के बच्चों को टीके लगना शुरू : यूनान और यूरोपीय संघ के चुनिंदा अन्य सदस्यों ने पांच से 11 साल उम्र के बच्चों को बुधवार को कोविड-19 रोधी टीका लगाना शुरू कर दिया जहां सरकारों ने छुट्टियों के मौसम के लिए अपनी तैयारियां शुरू करने के साथ ही कोरोना वायरस के नये ओमीक्रोन स्वरूप से निपटने के लिए कमर कस ली है।
 
इटली, स्पेन और हंगरी भी उन देशों में शामिल हैं जो छोटे बच्चों के लिए टीकाकरण कार्यक्रम का विस्तार कर रहे हैं जब राष्ट्रीय एजेंसियों ने फाइजर-बायोएनटेक द्वारा बनाए गए कम खुराक वाले टीके को पिछले महीने यूरोपीय संघ के नियामक की मंजूरी का औपचारिक रूप से समर्थन किया है।
 
एथेंस के एक बच्चों के अस्पताल ने बुधवार तड़के इस आयु वर्ग के बच्चों को पहला टीका दिया। इससे कुछ घंटे पहले अधिकारियों ने वैश्विक महामारी की शुरुआत के बाद से, यूनान में सबसे अधिक 130 दैनिक मौतों की घोषणा की थी। यूनान में माता-पिता द्वारा 12 साल से कम उम्र के 30,000 से अधिक बच्चों के लिए टीकाकरण के लिए अप्वाइंटमेंट बुक कराया। इन माता-पिता में शिक्षा मंत्री निकी केराम्यूस भी शामिल हैं।
ये भी पढ़ें
RSS चीफ मोहन भागवत ने कहा- हिन्दू धर्म छोड़ने वालों की घर वापसी कराएंगे, लोगों को जोड़ेंगे