शाहरुख खान को इस तरह आया DDLJ में अमरीश पुरी संग 'आओ आओ' वाले सीन का आइडिया

आदित्य चोपड़ा के निर्देशन में बनी फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' को 20 अक्टूबर को रिलीज हुए 26 साल पूरे हो गए हैं। यह ‍फिल्म आज भी लोगों के दिलों में ताजा है। फिल्म के डायलॉग्स और सीन लोगों को अब भी काफी पसंद हैं। एक इंटरव्यू के दौरान फिल्म में लीड रोल निभाने वाले ने फिल्म के सीन के बारे में बात की थी।

शाहरुख खान ने खुलासा किया था कि डीडीएलजे के कई दृश्यों को सेट पर सुधार किया गया था। शाहरुख खान ने Marie Claire को दिए इंटरव्यू में बताया था कि फिल्म में कई इंप्रोव मोमेंट्स थे, निश्चित रूप से इससे स्क्रिप्ट और बेहतर बनी। अमरीश पुरी के साथ एक सीन था, जहां वो कबूतरों को दाना खिला रहे थे। और हमारे पास वास्तव में ये मज़ेदार सीन था जहां हम दोनों अजीब तरह से कबूतरों के लिए 'आओ, आओ' बोल रहे हैं।
उन्होंने कहा, ये कबूतरों को बुलाने के लिए है, जिसे मैंने दिल्ली में सुना था, इसलिए मैंने इसे जोड़ा। यहां तक कि के चेहरे पर पानी छिड़कने वाला फूल भी, हमने उसे नहीं बताया था कि क्या होगा।

शाहरुख ने कहा, सेट पर सभी फ्रेंड्स की तरह थे, सभी खूब मजे करते हैं। आदित्य का क्लियर विजन था कि फिल्म को कहां लेकर जाना है और वो क्या कहना चाहते थे, उन्हें क्या चाहिए। ईमानदारी से कहूं तो इसलिए फिल्म में आवाजें हमारी हैं, लेकिन शब्द और भावनाएं सभी उनकी हैं।
बता दें कि फिल्म डीडीएलजे को मुंबई के एक थिएटर मराठा मंदिर में 20 सालों तक दिखाया गया। इस फिल्म ने शाहरुख खान और काजोल के करियर को नई ऊंचाइयां दी। ये साल की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म थी।




और भी पढ़ें :