इंडियन आइडल के सेट पर 'सुपर आजी' शांताबाई पवार ने सुनाई दिल छू लेनेवाली कहानी, नेहा कक्कड़ ने दिए एक लाख रुपए

पुनः संशोधित गुरुवार, 24 दिसंबर 2020 (17:27 IST)
इंडियन आइडल एक ऐसा मंच है जहां ना सिर्फ बेहतरीन म्यूजिकल टैलेंट्स देखने को मिलते हैं बल्कि देशभर की कुछ प्रेरणादायक और दिल छू लेने वाली कहानियां भी सुनने को मिलती हैं। हाल ही में के मंच पर आई थीं, जिन्हें पुणे की सड़कों पर अपनी लाठी काठी परफॉर्मेंस के लिए और अपनी प्रेरणादायक इच्छाशक्ति के लिए जाना जाता है।
शांताबाई पवार इंडियन आइडल की कंटेस्टेंट सायली कांबले और उनके म्यूजिक की बड़ी फैन हैं और इसलिए वो हाल ही में उनके समर्थन में इंडियन आइडल 2020 के सेट पर आईं। इस मौके पर शांताबाई ने कहा, यह लड़की बहुत अच्छा गाती है और मैं इसे सपोर्ट करने आई हूं। मैं प्रार्थना करती हूं और इसे आशीर्वाद देती हूं कि यह लड़की पर्वतों को हिला दे और संगीत के अपने सफर में बेहतरीन प्रदर्शन करे।

एक चर्चा के दौरान शांताबाई ने कहा, मैं 8 साल की उम्र से परफॉर्म कर रही हूं। मेरे पिता ने मुझे कड़ी मेहनत करना सिखाया। आज कोविड के कारण लोग ज्यादातर घरों में रहते हैं इसलिए मैं जब भी परफॉर्म करती हूं तो उन्हें सजग करने के लिए बर्तन बजाती हूं।

उन्होंने कहा, अब मैं 10 अनाथ लड़कियों का ख्याल रखती हूं और उनकी जरूरतें पूरी करती हूं। कभी-कभी तो इन लड़कियों को खाना खिलाने में मैं भूखी रह जाती हूं। अब अपनी शारीरिक अवस्था के चलते उन्हें लाठी काठी एक्ट परफॉर्म करने में दिक्कत होती है।
यह सुनकर नेहा इमोशनल हो गईं और उन्होंने बिना वक्त गंवाए तुरंत शांताबाई के अच्छे काम में उनका सपोर्ट करने के लिए उन्हें एक लाख रुपए देने की घोषणा कर दी। नेहा को उम्मीद है कि उनकी यह छोटी-सी मदद शांताबाई के नेक काम में उनकी सहायता करेगी।

इसपर सायली ने कहा, मैं बेहद कृतज्ञ हूं कि ऐसी महिला ने आज मुझे सपोर्ट किया। उनकी कहानी ने मुझे इंडियन आइडल 2020 में अपने संगीत के सफर में कड़ी मेहनत करने की प्रेरणा दी है। नेहा मैम का शुक्रिया कि उन्होंने उनकी मदद की। मैं शांताबाई पवार को भी धन्यवाद देती हूं कि वे आज यहां आईं। मैं वाकई बहुत सम्मानित महसूस कर रही हूं।



और भी पढ़ें :