‍राष्ट्रीय अवॉर्ड विजेता निर्देशक एसपी जननाथन का निधन

पुनः संशोधित रविवार, 14 मार्च 2021 (18:04 IST)
हमें फॉलो करें
तमिल सिनेमा के जाने माने निर्देशक का हो गया है। खबरों के अनुसार राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निर्देशक एसपी जननाथन का चेन्नई के अपोलो अस्पताल में कार्डियक अरेस्ट आने के बाद निधन हो गया। वह 61 साल के थे।

निर्देशक जननाथन गंभीर अवस्था में चेन्नई के अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे थे। 7 मई, 1959 को तमिलनाडु में जन्मे जननाथन ने 2003 में तमिल फिल्म 'इयार्कई' से फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। इस फिल्म को 51वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म (तमिल) का पुरस्कार मिला था।
फिलहाल वो विजय सेतुपति और की फिल्म 'लाबम' को लेकर चर्चा में थे। इस फिल्म का निर्देशन उन्होंने ही किया था। फिल्म के रिलीज होने से पहले ही जननाथन दिवंगत हो चुके हैं। उनकी फिल्म की रिलीज डेट अभी घोषित नहीं की गई है।
जननाथन के निधन के बाद सोशल मीडिया पर उनके फैंस और फिल्म जगत के कलाकार अपनी संवेदनाएं व्यक्त कर रहे हैं। श्रुति ने भी सोशल मीडिया पर जननाथन के निधन पर दुख जताया है। श्रुति ने पोस्ट में लिखा, 'भारी मन के साथ हम एसपी जननाथन सर को अलविदा कह रहे हैं। आपके साथ काम करना मेरा सौभग्य था सर। आपके शब्दों और समझदारी का शुक्रिया, आप हमेशा मेरे ख्यालों में रहेंगे। उनके परिवार को मेरी सांत्वनाएं।'
खबरों की मानें तो अभी एसपी जननाथन आगामी फिल्म 'लाबम' के संपादन में व्यस्त थे। हाल में उनके एक सहायक जब उनके घर पहुंचे, तो वो बेहोश अवस्था में पाए गए थे। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।


डॉक्टरों की एक टीम ने तत्काल उनका इलाज शुरू कर दिया था। जांच रिपोर्ट में जननाथन को ब्रेन हेमरेज की पुष्टि हुई थी। जननाथन ने तमिल सिनेमा में ई (2006), पेरानमई (2009) और पुरम्पोकू एंगिरा पोधुवुदामई (2015) में बतौर निर्देशक और डायलॉग राइटर काम किया था। भूलोहम (2015) के डायलॉग को भी उन्होंने लिखे थे।



और भी पढ़ें :