लॉकडाउन के दौरान कामना पाठक ने 'हप्पू की उलटन पलटन' के अपने किरदार रज्जो को किया बेहद मिस

पुनः संशोधित सोमवार, 28 सितम्बर 2020 (17:02 IST)
टीवी एक्ट्रेस कामना पाठक, जिन्हें निर्माता बिनाफेर कोहली और जय कोहली के धारावाहिक 'हप्पू की उलटन पलटन' में रज्जो के किरदार के लिए जाना जाता है। वे सेट पर शूटिंग शुरू करके बेहद खुश हैं। से ठीक पहले वह अपने होम टाउन इंदौर गई थी और फिर 3 महीने से ज्यादा समय तक वहीं फंसी रहीं।
ने कहा, तालाबंदी का समय अच्छी तरह से व्यतीत हुआ क्योंकि मैं अपने परिवार के साथ थी। पिछले 10 वर्षों में, मैंने उनके साथ इतना समय नहीं बिताया था, इसलिए मैं बहुत खुश थी क्योंकि मैं मुंबई में अकेले ही रहती हूं। मैंने रसोई में अपनी मां की मदद की और कई नए व्यंजन भी सीखे हैं।


उन्होंने कहा, पहले मैं केवल मैगी बना सकती थी लेकिन अब मैं कई व्यंजन पकाने में सक्षम हूं। इस महामारी ने मुझे एक बात भी सिखाई कि सतर्क रहो और सुरक्षित रहो और स्वस्थ रहो। तभी आप अपने परिवार का ख्याल रख सकते हैं।
जब कामना से पूछा गया कि क्या आपको हप्पू गैंग की याद आई? इस पर उन्होंने कहा, मैंने रज्जो को बहुत याद किया है और मेरे ऑन स्क्रीन प्यारे परिवार को भी बहुत याद आरती थी। घर पर मैं रज्जो बनने का नाटक करती थी और सोशल मीडिया पर अपने प्रशंसकों के साथ गाती और बातचीत भी करती थी। लेकिन मैं सेट अपने साथी कलाकारों और क्रू के साथ बातचीत करने को बहुत मिस करती थी।

कामना से जब पूछा गया शूटिंग को फिर से शुरू करने के लिए आप कितनी डरी हुई थीं? इस पर उन्होंने कहा, शुरू में मैं तटस्थ थी और अपनी भावनाओं को समझ नहीं पा रही थी। मैं खुश थी लेकिन कहीं न कहीं मेरे मन में भी डर था। लेकिन निर्माता बिनाफ़ेर मैम ने मेरी बहुत मदद की है- ठीक उसी समय से जब मैंने इंदौर से मुंबई के लिए फ्लाइट ली। उस समय से अब तक जिस तरह से उन्होंने मेरी देखभाल की है वह एक परिवार की तरह है और मेरे पास उन्हें धन्यवाद देने के लिए शब्द नहीं हैं।

कामना अपने विशेष डाइट के बारे में बताते हुए, मुझे आंवला का रस पिलाया जाता है, क्योंकि विटामिन सी महत्वपूर्ण है और कुछ सूखे फल और काढ़ा के साथ ढेर सारी हरी सब्जियां भी डाइट में शामिल हैं। निर्माता जोड़ी बिनाफ़ेर और संजय कोहली के बारे में बात करते हुए कामना कहती हैं, दोनों ही दर्शकों की नब्ज जानते हैं। मौजूदा हालात में उन्हें हंसाना आसान नहीं है।
उन्होंने कहा, अतीत में भी जिस तरह से उन्होंने एफआईआर, भाबीजी घर पर है जैसे शो का निर्माण किया है, उन्होंने कॉमेडी को भारतीय टेलीविजन पर एक नया स्पर्श दिया है। मैं गर्व के साथ कह सकता हूं कि हप्पू आने वाले समय में बहुत सारी अच्छी कहानियों के लिए तैयार है और हम लोगों के चेहरे पर मुस्कान वापस लाएंगे और लोग कोरोना को भूल जाएंगे।



और भी पढ़ें :