अपने माता-पिता के अलगाव पर काजोल ने कही यह बात

पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 जनवरी 2021 (12:26 IST)
बॉलीवुड एक्ट्रेस इस वक्त अपनी फिल्म 'त्रिभंगा' को लेकर चर्चा में हैं। यह फिल्म रिश्तों की कहानी है। इस फिल्म में काजोल सिंगल मां का किरदार निभा रही हैं। फिल्म प्रमोशन के दौरान एक इंटरव्यू में अभिनेत्री ने उस वक्त को शेयर किया, जब उनके माता- पिता का अलगाव हुआ।
काजोल ने बताया कि वह महज साढ़े चार साल की थीं, जब उनके मां-पिता (शोमू मुखर्जी और तनुजा) अलग हो गए। काजोल ने कहा, मुझे बहुत ही शानदार परवरिश मिली है। मैं खुद को खुशकिस्मत मानती हूं कि मुझे इतने प्रोग्रेसिव सोच रखने वाले अद्भुत लोगों ने बड़ा किया है, जिन्होंने मुझे जिंदगी के बारे में, बड़े होने के बारे में और एक व्यस्क होने के बारे में उस वक्त सिखाया जब मैं बच्ची थी। मुझे इस बारे में भी पता है कि अगर ये थोड़ा सा भी गलत हो जाती जो क्या होता।
काजोल ने आगे कहा, मेरे माता-पिता तब अलग हो गए थे जब मैं साढ़े चार साल की थी और ये बहुत गलत भी हो सकता था। मेरे ऐसे कई दोस्त हैं जिनके माता-पिता आज तक साथ में हैं लेकिन सही जगह नहीं हैं। उन्हें अच्छा बचपन नहीं मिला। मैं अपने पिता से भी प्यार करती थी और अपनी मां से भी।

बता दें कि 10 अप्रैल 2008 को हार्ट अटैक से काजोल के पिता का निधन हो गया था, उस समय वो 64 साल के थे। शोमू मुखर्जी फिल्म निर्माता, लेखक और निर्देशक थे। जबकि काजोल की मां तनुजा हिन्दी फिल्मों की जानी मानी अभिनेत्री रह चुकी हैं।
वर्क फ्रंट की बात करें तो काजोल पिछले साल यानी 2020 में के साथ फिल्म तानाजी में नज़र आई थीं। ये फिल्म देश में लॉकाडाउन लागू से होने से काफी पहले ही रिलीज़ हो चुकी थी। इसके अलावा पिछले साल उनकी एक शॉर्ट फिल्म 'देवी' भी रिलीज़ हुई थी।



और भी पढ़ें :