चीन के मुद्दे पर राहुल गांधी को राजनाथ सिंह का जवाब- मैं खुलासा कर दूं तो चेहरा दिखाना मुश्किल हो जाएगा

Last Updated: शनिवार, 31 अक्टूबर 2020 (22:30 IST)
पटना। प्रचार में का मुद्दा हावी है। इस मुद्दे को लेकर मोदी सरकार पर लगातार निशाना साध रही है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा चीनी सेना के भारतीय सीमा में प्रवेश के आरोप पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जवाब दिया है। पटना में आयोजित एनडीए की रैली को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर मैंने खुलासा कर दिया तो चेहरा दिखाना मुश्किल हो जाएगा।
रक्षा मंत्री ने कहा कि दुनिया की कोई भी ताक़त भारत की एक इंच ज़मीन पर क़ब्ज़ा नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सहित कुछ विरोधी राजनीतिक दल यह कहकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं कि भारत की 1200 किलोमीटर जमीन पर कब्जा कर लिया गया है। मैं खुलासा कर दूंगा तो चेहरा दिखाना मुश्किल हो जाएगा।
बख़्तियारपुर और मनेर में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि
कुछ विरोधी राजनीतिक पार्टियां गुमराह कर रही हैं। कांग्रेस के नेता कह रहे हैं कि भारत की 1200 किमी भूमि पर क़ब्ज़ा कर लिया गया है। यह गलत है। उन्होंने कहा कि मैं आपको यक़ीन दिलाता हूं कि दुनिया की कोई भी ताक़त एक इंच ज़मीन पर क़ब्ज़ा नहीं कर सकती। रक्षामंत्री ने सवाल किया कि क्या राष्ट्रीय एकता और अखंडता के मुद्दे पर पूरे देश को एकजुट नहीं होना चाहिए?

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कुछ दिनों पहले बिहार में चुनावी रैली में दावा किया था कि चीन ने भारत की 1200 किलोमीटर जमीन पर कब्जा कर लिया है और सरकार से सवाल किया था कि चीनी सैनिकों को कब भगाया जाएगा। एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भी ऐसा ही दावा किया था।
रक्षामंत्री ने कहा कि बिहार रेजीमेंट के जवानों ने गलवान घाटी में भारत माता के स्वाभिमान की रक्षा की और यहां तक कि अपने प्राणों का बलिदान किया है और वे ऐसे बहादुर जवानों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।
सिंह ने कहा कि हमारी सेना के बहादुर जवानों ने अदभुत शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया है और देश के मान-सम्मान, स्वाभिमान की रक्षा की है जिस पर हमें उन पर गर्व होना चाहिए।
कांग्रेस को माफी मांगना चाहिए : पुलवामा हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के पड़ोसी देश के मंत्री की स्वीकारोक्ति का जिक्र करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि पुलवामा की घटना के बाद बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक हुई लेकिन कांग्रेस सुबूत मांग रही थी। उन्होंने कहा कि अब पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में हुई बहस से स्थिति स्पष्ट हो गई और वहां के मंत्री कह रहे थे पुलवामा में हुई घटना में पाकिस्तान का हाथ है। राजनाथसिंह ने कहा कि अब तो कांग्रेस को माफ़ी मांगनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि राजग की सरकारों ने जो कहा है उसे करके दिखाया है। अनुच्छेद 370 को हमने समाप्त कर दिया और अब अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर भी बन रहा है। रक्षा मंत्री ने कहा कि राजग सरकार के द्वारा किए गए कार्यों से जनता के बीच हमारी विश्वसनीयता बढ़ी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है और आज दुनिया के तमाम देश भारत के साथ दोस्ती को और अधिक मज़बूत कर रहे हैं।
सिंह ने कहा कि हमारी सरकार ने घर घर गैस सिलेंडर पहुंचाया है, आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से ग़रीबों का 5 लाख रुपए तक सालाना मुफ़्त इलाज किया जा रहा है और बिहार में भी हज़ारों लोगों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ मिला है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जन-धन योजना के माध्यम से खाते खुले तथा देश के हर किसान को 6000 रुपए वार्षिक की सम्मान निधि दी जा रही है।

रक्षामंत्री ने कहा कि एक भी पैसा इधर उधर नहीं होता। उन्होंने कहा कि जब राजीव गांधीजी देश के प्रधानमंत्री थे तो वे कहते थे कि दिल्ली से भेजे गए एक रुपया में से सिर्फ़ 16 पैसे ही नीचे पहुंचते हैं जबकि अब हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी पूरे के पूरे 100 पैसे नीचे तक पहुंचा रहे हैं। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :