बदलते मौसम में अलग-अलग तेल से हेड मसाज करने के फायदे...

head massage
आज जब भी हमें किसी काम से थोड़ा भी बाहर जाना होता है तो उतनी ही देर में धूल-मिट्टी और प्रदूषण से हमारे बाल खराब हो जाते हैं। कुछ लोग आपको यह सलाह देते हुए मिल जाएंगे, जो कहेंगे कि सिर में तेल लगाना जरुरी नहीं है, लेकिन यकीन मानिए ये बात सरासर गलत है। सर की करना वर्षों से चला आ रहा है और पहले लोगों के बाल आज की अपेक्षा ज्यादा स्वस्थ रहते थे, हालांकि तब प्रदूषण भी कम हुआ करता था, लेकिन बालों की जड़ों को मजबूती देने के लिए हफ्ते में कम से कम 2 बार तेल से सिर की मसाज जरूर करना चाहिए। ज्यादा अच्छे नतीजे पाने के लिए आपको अलग-अलग तेलों से अपने सर की मसाज करना चाहिए।

सामान्यतः लोग बहुत सारा तेल डालकर हथेलियों से बालों को रगड़ते हैं, लेकिन मसाज का यह तरीका सही नहीं है। बालों की जड़ें हमारे सिर की त्वचा के अंदर होती हैं इसलिए तेल को जड़ों तक पहुंचाना जरूरी है। यदि आप सिर की त्वचा को जोर-जोर से रगड़ेंगे तो केशों का आधार कमजोर हो जाएगा और वहीं से बालों की पकड़ कमजोर होने लगेगी, जिससे बाल ऊपर से या जड़ों से ही टूटने लगेंगे। इस तरह की मसाज से बाल उलझ भी जाते हैं और सुलझाने में कई बाल टूट जाते हैं।
मसाज करते समय हथेलियों के बजाय अंगुलियों के पौरों का ही इस्तेमाल करना चाहिए। अंगुलियों की गति और लय इस प्रकार होनी चाहिए कि त्वचा में कंपन महसूस हो, साथ ही सिर में हलकापन भी लगे। मसाज के समय सिर को जोर-जोर से हिलाना व रगड़ना नहीं चाहिए। सिर पर अंगुलियों को गोल-गोल घुमाते हुए मसाज करें।
गर्मियों के मौसम में आपको बालों में पूरी रात तेल लगाने का मन नहीं करे तो आप शैंपू करने से आधा-एक घंटा पहले भी तेल मसाज कर सकते हैं। आप तेल को गरम करें, मसाज करें और आधा-एक घंटे बालों में छोड़ दें, फिर बालों को शैंपू से धो लें। आप इनमें से किसी भी तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं, सभी के अपने अलग-अलग फायदे होते हैं।

1. नारियल तेल- इसमें कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिंस और पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं, जो बालों को घना, मजबूत और लंबे बनाने में मदद करते हैं।
2. सरसों तेल- इससे मसाज करने पर रूसी से राहत मिलती है।

3. बादाम तेल- यह बालों को झड़ने से रोकता है। यह कंडीशनर की तरह काम करता है और दोमुंहे बालों से भी छुटकारा दिलाता है।

4. जैतून तेल- इसकी मसाज से बाल तेजी से बढ़ते हैं और झड़ने भी कम होते हैं। यह भी अच्छा कंडीशनर होता है।

5. तिल का तेल- इसमें विटामिन ई, बी कॉम्प्लेक्स, कैल्शि‍यम, मैग्नीशि‍यम, फॉस्फोरस और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है। यह बालों को भीतर से पोषित करके जड़ों को मजबूत बनाता है। यह सिर की जुओं का सफाया करने में भी मदद करता है।


और भी पढ़ें :