रामायण पर जारी 11 डाक टिकट, सीता स्वयंवर से लेकर रावण वध तक की पूरी कहानी

हिमा अग्रवाल| Last Updated: शुक्रवार, 7 अगस्त 2020 (00:21 IST)
मेरठ। आजकल संपूर्ण भारत में राम नाम की धूम है। पूरब से लेकर पश्चिम तक और पश्चिम से लेकर पूरब तक राम धुन ही सुनाई दे रही है। इसी कड़ी में अब डाक विभाग भी राममय हो गया है। डाक विभाग ने आम लोगों को भारतीय संस्कृति से जोड़ने के लिए एक अनूठी पहल की है। उसने प्रसंग से जुड़े हुए 11 जारी किए हैं। इन डाक टिकटों में रामायण से जुड़े विभिन्न अध्याय जैसे सीता स्वयंवर, रावण वध और राम दरबार का जिक्र डाक टिकट के माध्यम से किया गया है। डाक विभाग के अधिकारी इन डाक टिकटों को लेकर खासा उत्साहित हैं।

डाक विभाग की तरफ से अब तक भारत के शहीदों, ऐतिहासिक स्थलों, राजनेताओं, पयर्टन और पशु-पक्षियों पर डाक टिकट जारी किए गए हैं। मेरठ डाक विभाग के सीनियर पोस्ट मास्टर जेएल शर्मा ने बताया कि धार्मिक पौराणिक कथाओं के आधारित पर रामायण का डाक टिकट पहली बार प्रकाशित हुआ है।
इनमें रामायण के 11 अध्यायों का चित्र के माध्यम से संजीव चित्रण किया गया है।

इन टिकटों पर राम-सीता स्वयंवर, राम वनवास, केवट संवाद, भरत मिलाप, सबरी के झूठे बेर खाना, सीता खोज में जटायु से भेंट, लंका जाने के लिए समुद्र पर पुल निर्माण, अशोक वाटिका में हनुमान का सीता को संदेश पहुंचाना, हनुमान का संजीवनी बूटी का लाना, रावण वध व राम का राज्याभिषेक के प्रसंग अंकित है।
रामायण थीम पर आधारित डाक टिकटों की कीमत 5 से लेकर 15 रुपए तक है और 11 डाक टिकटों का यह समूह है। दस टिकट 5 रुपए के हैं और राम दरबार टिकट 15 रुपए का है, आप इस पूरी श्रृंखला को 65 रुपए में खरीद सकते हैं। डाक विभाग के अधिकारियों का कहना है कि उनकी डिपार्टमेंट में रामायण प्रसंग से जुड़े डाक टिकट अभी और जारी होने है। प्रधानमंत्री ने भी कल अयोध्या में राम मंदिर मॉडल का डाक टिकट जारी किया है। विभाग के अधिकारी इसे लेकर गर्व महसूस करते हैं।
अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन के बाद देश में राम नाम की महिमा चारों तरफ दिखाई पड़ रही है। डाक विभाग में रामायण प्रसंग आधारित टिकटों को खरीदने के लिए जनता में भी जोश है। राम भक्त इन डाक टिकटों को ले जाकर अपने घर में सजा रहे हैं, वहीं डाक विभाग चाहता है कि रामायण प्रसंग से जुड़े इन डाक टिकट को लोग खरीदकर गिफ्ट करें।



और भी पढ़ें :