सिर्फ 15 मिनट में चार्ज हो जाएगी EV की बैटरी, 15 साल तक बदलवाने की झंझट खत्म

पुनः संशोधित मंगलवार, 2 मार्च 2021 (18:34 IST)
बेंगलुरु। बेंगलुरु की प्रौद्योगिकी क्षेत्र की स्टार्टअप (Log 9 Materials ) ने इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए तेजी से चार्ज होने वाली बैटरी टेक्नोलॉजी लांच की है। कंपनी का दावा है कि यह दोपहिया और तिपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों की बैटरी को 15 मिनट से कम में चार्ज कर देगी।
ALSO READ:
क्या आपके खाते में नहीं आ रहा है LPG Cylinder की सब्सिडी का पैसा? तो ऐसे करें शिकायत
कंपनी ने कहा कि लॉग 9 की टीम ने अपनी सामूहिक विशेषज्ञता तथा सुपरकैपासिटर प्रौद्योगिकी और ‘ग्राफीन’ के ज्ञान के आधार पर इस बैटरी का विकास किया है। यह नैनो प्रौद्योगिकी कंपनी ‘ग्राफीन’ में विशेषज्ञता रखती है।

कंपनी ने कहा कि ये बैटरियां न सिर्फ 15 मिनट में चार्ज हो जाएंगी बल्कि ये 15 साल से अधिक समय तक चलेंगी थी। इससे प्रति किलोमीटर बैटरी की लागत घटेगी।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-रुड़की (आईआईटी-रुड़की) से निकली इस स्टार्टअप कंपनी की योजना अगले वित्त वर्ष के अंत तक इन बैटरी पैक्स को 3,000 से अधिक वाहनों में लगाने की है । वित्त वर्ष 2022-23 तक इस बैटरियों को 20,000 से अधिक वाहनों में लगाया जाएगा।
कंपनी के मुताबिक नई विकसित बैटरी 5 गुना अधिक पॉवरफुल है यानी कि इस बैटरी के इस्तेमाल से इलेक्ट्रिक गाड़ी अधिक भार ढो सकेंगे। इसके अलावा सेफ्टी की बात करें तो मौजूदा लीथियम-आयन बैटरीज की तुलना में यह फायर रेजिस्टेंस व इंपैक्ट-रेजिस्टेंस के मामले में 5 गुना अधिक सुरक्षित है।



और भी पढ़ें :