Fact Check: लोगों को प्रति माह ₹3800 तक का बेरोजगारी भत्ता दे रही मोदी सरकार? जानिए सच

Last Updated: बुधवार, 27 जनवरी 2021 (20:30 IST)
सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इसमें दावा किया गया है कि ‘प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता वर्ष 2021’ योजना के तहत भारत सरकार कोरोना महामारी के कारण प्रभावित युवाओं को ₹3800 तक का बेरोजगारी भत्ता दे रही है।

क्या है वायरल पोस्ट में-


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम और तस्वीर के साथ वायरल हो रही पोस्ट में दावा किया गया है कि केंद्र सरकार बेरोजगारों को प्रति माह ₹3800 तक का बेरोजगारी भत्ता प्रदान कर रही है। कहा जा रहा है कि नए वर्ष के साथ आत्मनिर्भर भारत का निर्माण करने के लिए यह योजना शुरू की गई है। योजना के लिए 18 वर्ष से लेकर 50 वर्ष तक की आयु वाले भारतीय नागरिक पात्र हैं। इस आयु वर्ग के बेरोजगारों को ₹3,800 तक बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। वायरल पोस्ट में भत्ता पाने के लिए रेजिस्ट्रेशन करने के लिए कहा गया है, जिसके लिए एक लिंक दी गई है।

दावा किया जा रहा है कि 18 से 25 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को 1500 रुपए, 26 से 30 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को 2000 रुपए, 30 से 35 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को 3000 रुपए, 36 से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को 3500 रुपए तो वहीं 46 से 50 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को 3800 रुपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।


क्या है सच-


केन्द्र सरकार की पॉलिसी/स्कीम्स/विभाग/मंत्रालयों को लेकर गलत सूचना को फैलने से रोकने के लिए काम करने वाले PIB (PIB Fact Check) ने ट्वीट कर इस फेक खबर के बारे में लोगों को जागरुक किया है। PIB फैक्ट चेक ने ट्वीट कर बताया कि एक मैसेज में दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार बेरोजगारों को प्रति माह ₹3800 तक का बेरोजगारी भत्ता प्रदान कर रही है। यह दावा फर्जी है। केंद्र सरकार ने ऐसी कोई घोषणा नहीं की है।




और भी पढ़ें :