Fact Check: क्या चाय पीने से सच में नहीं होगा कोरोना? संक्रमित व्यक्ति भी होगा ठीक? जानिए सच्चाई

Last Updated: सोमवार, 10 मई 2021 (13:23 IST)
देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सोशल मीडिया पर इस महामारी को लेकर कई अफवाहें फैल रही हैं। ट्विटर, फेसबुक और व्हॉट्सऐप जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लोग कोरोना से बचाव के लिए तरह-तरह के उपाय शेयर कर रहे हैं। एक ऐसे ही दावे में कहा जा रहा है कि पीने से के संक्रमण को बचा जा सकता है और इससे संक्रमित व्यक्ति भी जल्दी स्वस्थ हो सकता है।

क्या है दावा-

‘खूब चाय पीयो और पिलाओ, चाय पीने वालों के लिए खुशखबरी’ शीर्षक के साथ एक खबर में लिखा गया है कि अमेरिका के विख्यात सीएनएन न्यूज चैनल के मुताबिक, चीन के विख्यात कोरोना वायरस विशेषज्ञ डॉ। ली वेनलियानग अपनी मृत्यु के पूर्व यह कह गए हैं कि केमिकल Methylxanthine, Theobromine और Theophylline कोरोना वायरस को मार सकते हैं और ये तीनों केमिकल चाय में पाए जाते हैं। ऐसे में यदि कोई दिन में तीन कप चाय पीता है, तो वह कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं होगा और यदि संक्रमित व्यक्ति चाय पीता है, तो कुछ ही दिन में वह संक्रमण से मुक्त हो सकता है।



क्या है सच-


भारत सरकार की प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) की टीम ने वायरल हो रही खबर की पड़ताल की और लोगों को इसकी सच्चाई बताई। PIB फैक्ट चेक ने ट्वीट कर बताया कि वायरल खबर में किया गया दावा फर्जी है। इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि चाय के सेवन से कोरोना के संक्रमण का खतरा कम किया जा सकता है।



इससे पहले PIB ने एक और वायरल मैसेज का खंडन किया था जिसमें दावा किया गया है कि लंबे समय तक मास्क के उपयोग से शरीर में कार्बन डाइऑक्साइड की अधिकता और ऑक्सीजन की कमी हो जाती है। PIB ने ट्वीट कर बताया था कि यह दावा फर्जी है।




और भी पढ़ें :