घर के पास रातरानी का पौधा लगाने के 5 चमत्कारिक फायदे

अनिरुद्ध जोशी| पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 मई 2020 (11:30 IST)
रातरानी का को चांदनी में कहते हैं। मदमस्त खुशबू बिखेरते हैं। इसकी खुशबू बहुत दूर तक जाती है। इसके छोटे-छोटे फूल गुच्छे में आते हैं तथा रात में खिलते हैं और सवेरे सिकुड़ जाते हैं। इसलिए इसे रातरानी का पौधा कहते हैं। रातरानी का पौधा एक सदाबहार झाड़ी वाला 13 फुट तक हो सकता है। इसकी पत्तियां सरल, संकीर्ण चाकू जैसी लंबी, चिकनी और चमकदार होती हैं। फूल एक दुबला ट्यूबलर जैसा साथ ही हरा और सफेद होता है। आओ जानते हैं इसके 5 चमत्कारिक फायदे।

1. रातरानी के फूल साल में 5 या 6 बार आते हैं। हर बार 7 से 10 दिन तक अपनी खुशबू बिखेरकर बहुत ही शांतिमय और खुशबूदार वातावरण निर्मित कर देते हैं। इसे वास्तुदोष दूर होता है।

2. रातरानी की सुगंध सूंघते रहने से जीवन के सारे संताप मिट जाते हैं। हर तरह का हट जाता है। स्नायु रोग में रातरानी का पौधा और उसका फूल बहुत ही फायदेमंद रहता है। रातरानी की सुगंध से सभी तरह की चिंता, भय, घबराहट आदि सभी मिट जाती है। सुगंध में इसे सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।
3. रातरानी और चमेली के फूलों से महिलाएं गजरा बनाती हैं, जो बालों में लगाया जाता है। इसे लगाने से महिलाओं का मन हमेशा प्रफुल्लित और प्रसन्नचित रहता है।

4. रातरानी के फूलों का इत्र भी बनता है। मानसिक तनाव को दूर करने और अच्छी सेहत के लिए अपने बैडरूम में और नहाने के दौरान रातरानी की सुगंध का उपयोग करना चाहिए। रातरा‍नी के इत्र में स्नान करने या इसकी सुगंध सुगने से भी मस्तिष्क का दर्द चला जाता है। सुबह रातरानी के सुगंधित जल से स्नान कर लें। दिनभर बदन में ताजगी का एहसास रहेगा व पसीने की दुर्गंध से भी छुटकारा मिलेगा।

5. रातरानी की सुगंध से मन और मस्तिष्क पर गहरा प्रभाव पड़ता है जिसके चलते आपकी सोच पर फर्क पड़ता है। आपकी सोच सकारात्मक होने लगती है।


और भी पढ़ें :