शुक्रवार, 5 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. वास्तु-फेंगशुई
  4. According to Vastu, where should the cupboard be in the house
Written By WD Feature Desk
Last Updated : गुरुवार, 15 फ़रवरी 2024 (16:38 IST)

वास्तु के अनुसार कहां होना चाहिए घर में अलमारी?

Almirah
Vstu of Almirah or Wardrobe decoration : वास्तु के अनुसार घर में अलमारी रखने की भी विशेष जगह होती है। इसी से आपके घर में धन समृद्धि तय होती है। यदि अलमारी गलत दिशा में रखी है तो आर्थिक नुकसान झेलना पड़ सकता है और उन्नति में भी बाधा उत्पन्न होती है। इसलिए जानिए कि घर में तिजोरी या अलमारी को किस दिशा में रखना चाहिए।
ईशान कोण : यहां पैसा, धन और आभूषण रखे जाएं तो यह दर्शाता है कि घर का मुखिया बुद्धिमान है और यदि यह उत्तर ईशान में रखे हों तो घर की एक कन्या संतान और यदि पूर्व ईशान में रखे हों तो एक पुत्र संतान बहुत बुद्धिमान और प्रसिद्ध है।
 
उत्तर दिशा : घर की इस दिशा में कैश व आभूषण जिस अलमारी में रखते हैं, वह अलमारी भवन की उत्तर दिशा के कमरे में दक्षिण की दीवार से लगाकर रखना चाहिए। इस प्रकार रखने से अलमारी उत्तर दिशा की ओर खुलेगी, उसमें रखे गए पैसे और आभूषण में हमेशा वृद्धि होती रहेगी।
 
पूर्व दिशा : यहां घर की संपत्ति और तिजोरी रखना बहुत शुभ होता है और उसमें बढ़ोतरी होती रहती है।
 
आग्नेय कोण : यहां धन रखने से धन घटता है, क्योंकि घर के मुखिया की आमदनी घर के खर्चे से कम होने के कारण कर्ज की स्थिति बनी रहती है।
दक्षिण दिशा : इस दिशा में धन, सोना, चांदी और आभूषण रखने से नुकसान तो नहीं होता परंतु बढ़ोत्तरी भी विशेष नहीं होती है।
 
नैऋत्य कोण : यहां धन, महंगा सामान और आभूषण रखे जाएं तो वह टिकते जरूर है, किंतु एक बात अवश्य रहती है कि यह धन और सामान गलत ढंग से कमाया हुआ होता है।
 
पश्चिम दिशा : यहां धन-संपत्ति और आभूषण रखे जाएं तो साधारण ही शुभता का लाभ मिलता है। परंतु घर का मुखिया अपने स्त्री-पुरुष मित्रों का सहयोग होने के बाद भी बड़ी कठिनाई के साथ धन कमा पाता है। 
वायव्य कोण : यहां धन रखा हो तो खर्च जितनी आमदनी जुटा पाना मुश्किल होता है। ऐसे व्यक्ति का बजट हमेशा गड़बड़ाया रहता है और कर्जदारों से सताया जाता है।
Wardrobe
  • अलमारी को दक्षिण की दीवार सटाकर रखें जिससे उसका दवारा उत्तर की ओर खुले। उत्तर दिशा कुबेर की दिशा होती है। 
  • उत्तर दिशा में अलमारी का मुंह खुलने से धन और ज्वेलरी में बढ़ोतरी होती है।
  • यदि इसे बेडरूम में रख रहे हैं तो उत्तर-पश्चिम या दक्षिण-पश्चिम कोने में रखें।
  • इसे इस तरह रखा जाना चाहिए कि यह बेडरूम की दीवार से संपर्क न कर पाए। कम से कम 2 इंच दूर रखें।
  • अलमारी को हमेशा दक्षिण की दीवार से सटाकर रखते हैं। दक्षिण के अलावा पश्‍चिम से भी सटाकर रख सकते हैं।
  • अलमारी का आकार आयताकार या चौकोर होना चाहिए।
  • अलमारी का रंग हल्का नीला, गुलामी या लकड़ी के कलर का होना चाहिए।
  • यदि अलमारी को बेडरूम में रख रहे हैं तो इसमें दर्पण न रखें तो अच्‍छा है।
  • अलमारी का रंग आपके घर की दीवारों से मैच करता हो तो अच्छा है।
  • अलमारी पर व्हाइट, सॉफ्ट ब्लू, ग्रीन, पेस्टल और क्रीम जैसे लाइट कलर में पेंट होनी चाहिए।
  • इसमें इत्र की शिशी, चंदन की बट्टी या अगरबत्ती का पैकेट भी रख सकते हैं जिससे उसमें सुगंध बनी रहेगी।
  • इसमें फटे पुराने कपड़े या फालतू कपड़ों की पोटली बनाकर न रखें।
  • इसमें यदि जुते चप्पल रख रहे हों तो वह साफ सुधरे होना चाहिए।
  • कड़ों को ठूंसकर न रखें व्यवस्थित जमाकर रखें।
  • अलमारी को खुला नहीं रखना चाहिए।
  • टूटी फूटी अलमारी न रखें।
  • अलमारी को सीधे भूमि पर नहीं रखना चाहिए।
  • उसके नीचे कपड़ा, पुष्ठा या लकड़ी का तख्‍ता रखेंगे तो इससे वास्तुदोष निर्मित नहीं होगा।
ये भी पढ़ें
यदि सांप के इस तरह के आ रहे हैं सपने तो ये अशुभ है...