एक गीत लिखा है मैंने

मुलाकातों की धुँधली परछाई में

प्यार
Gayarti SharmaWD
एक लिखा मैंने
तेरी में

तेरी मीठी बातों को
सहेजते हुए

उन हसीं मुलाकातों की
धुँधली परछाई में।


एक गीत लिखा मैंने
तेरी खिलते
गुलाबों सी हँसी
और तेरी शराबी आँखों की
मादक अँगड़ाई में।

एक गीत लिखा मैंने
तेरी मीठी बातों
की उन रातों
वो तेरा शर्माना
पलभर में रूठ जाना
उन बीते दिनों की याद में।

तुझे याद करते हुए
बहुत कुछ लिखा मैंने
और लिखता रहूँगा
जब तक तू जिंदा रहेगी मुझमें
गायत्री शर्मा|
मेरी यादों में।



और भी पढ़ें :