शिवसेना से अयोध्या के संत नाराज, स्वामी परमहंस ने उद्धव को कहा रावण, आदित्य की तुलना मेघनाथ से

संदीप श्रीवास्तव| Last Updated: बुधवार, 15 जून 2022 (13:09 IST)
हमें फॉलो करें
संदीप श्रीवास्तव
अयोध्या। राम नगरी के विकास के साथ - साथ राजनीति का भी अखाड़ा बनता जा रहा हैं। इसके चलते सभी राजनीतिक दलों का भविष्य अयोध्या से ही चमकता व सवंरता दिख रहा हैं। इसी के चलते शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के पुत्र और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे बुधवार को अयोध्या पहुंच रहे हैं। उन्हें यहां भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच ने उद्धव ठाकरे को रावण व आदित्य ठाकरे को मेघनाथ की संज्ञा दी।
 
वही अयोध्या से हमेशा हिन्दुओं के लिए आवाज उठाने वाले बेबाक संत स्वामी परमहंस ने भी अपना जबरदस्त विरोध प्रकट करते हुए उद्धव ठाकरे को रावण व आदित्य ठाकरे को मेघनाथ की संज्ञा दे दीं।
 
ने शिवसेना को बताया काल नेमी: हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास का बयान। घड़ियाली आंसू बहाने से नहीं है कोई फायदा। हिंदू हो चुका है सजग और सतर्क। शिवसेना के मंत्री आदित्य ठाकरे का अयोध्या दौरा पूर्णरूपेण राजनीतिक। संपूर्ण अयोध्या पट गई है पोस्टर और होर्डिंग से। अयोध्या आने वाले का स्वागत है लेकिन डुग्गी पीटकर भोंपू बजाकर पोस्टर लगाकर दौरा राजनीतिक है।
 
शिवसेना को राजू दास ने कालनेमि बताया। उन्होंने कहा कि कालनेमि से सावधान होने की है जरूरत। महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पढ़ने पर होती है 14 दिन की जेल और आतंकवादी वाला कानून लगाकर भेजा जाता है जेल। अयोध्या आकर आदित्य ठाकरे क्या संदेश देना चाहते हैं।
 
उन्होंने दावा किया कि संजय राउत ने कल सरयू के तट पर मौजूद होने के बाद नहीं की सरयू आरती। राजू दास ने कहा ऐसे लोगों से है सावधान होने की जरूरत।
 
क्या है अयोध्या में उद्धव का कार्यक्रम : शिव सेना नेता संजय राउत के अनुसार आदित्य ठाकरे अयोध्या में हनुमान गढ़ी, रामलला का दर्शन कर रंजनभूमि के चल रहे निर्माण कार्य को भी देखेंगे। इसके बाद लक्ष्मण किला व सरयू आरती का कार्यक्रम रखा हैं।



और भी पढ़ें :