रविवार, 14 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. उत्तर प्रदेश
  4. mayawati tweets in favour of akhilesh yadav
Written By
Last Modified: मंगलवार, 20 सितम्बर 2022 (15:03 IST)

सपा को मिला मायावती का साथ, क्या फिर साथ नजर आएंगे दोनों दिग्गज?

सपा को मिला मायावती का साथ, क्या फिर साथ नजर आएंगे दोनों दिग्गज? - mayawati tweets in favour of akhilesh yadav
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में जारी विधानसभा सत्र के बीच सपा विधायक सदन के बाहर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच बसपा सुप्रीमों मायावती ने भी योगी सरकार के खिलाफ समाजवादी पार्टी के प्रदर्शन को सही ठहराया। हालांकि, मायावती ने  अपने ट्वीट में सपा या अखिलेश के नाम का जिक्र नहीं किया। यूपी के राजनीति हल्कों में सवाल उठ रहे हैं कि क्या 2017 के विधानसभा चुनावों के बाद, आने वाले लोकसभा चुनाव में दोनों दल एक साथ नजर आएंगे?
 
मायावती ने ट्वीट कर कहा कि विपक्षी पार्टियों को सरकार की जनविरोधी नीतियों व उसकी निरंकुशता तथा जुल्म-ज्यादती आदि को लेकर धरना-प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं देना भाजपा सरकार की नई तानाशाही प्रवृति हो गई है। साथ ही, बात-बात पर मुकदमे व लोगों की गिरफ्तारी एवं विरोध को कुचलने की बनी सरकारी धारणा अति-घातक।
 
एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि इसी क्रम में इलाहाबाद विश्वविद्यालय द्वारा फीस में एकमुश्त भारी वृद्धि करने के विरोध में छात्रों के आन्दोलन को जिस प्रकार कुचलने का प्रयास जारी है वह अनुचित व निन्दनीय। यूपी सरकार अपनी निरंकुशता को त्याग कर छात्रों की वाजिब मांगों पर सहानुभतिपूर्वक विचार करे, बीएसपी की मांग।
 
मायावती ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी, बदहाल सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य व कानून व्यवस्था आदि के प्रति यूपी सरकार की लापरवाही के विरुद्ध धरना-प्रदर्शन नहीं करने देने व उनपर दमन चक्र के पहले भाजपा जरूर सोचे कि विधानभवन के सामने बात-बात पर सड़क जाम करके आमजनजीवन ठप करने का उनका क्रूर इतिहास है।
ये भी पढ़ें
चीतों को चीतल परोसने पर बवाल, क्या बोले भाजपा नेता कुलदीप बिश्नोई?